Breaking News

किम जोंग उन ने जो बिडेन को दी चेतावनी, ‘नीति नहीं बदली तो गंभीर होंगे परिणाम’

ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले समय में अमेरिका (America) और उत्तर कोरिया (North Korea) के बीच तनाव बढ़ सकता है। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने जो बयानबाजी की है उससे साफ पता चलता है कि उन्हें संबंध सुधारने में कोई इच्छुक नहीं है। किम जोंग उन ने शुक्रवार को अपने बयान में कहा कि वॉशिंगटन प्योंगयांग का सबसे बड़ा दुश्मन है। साथ ही उन्होंने धमकी भी दी कि अगर पश्चिमी देशों का रवैया नहीं बदला तो उत्तर कोरिया अपने परिमाणु हथियारों का विस्तार करने से भी पीछे नहीं हटेगा।

स्टेट मीडिया के अनुसार, किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने कहा कि अमेरिका के साथ रिश्ते इस बात पर डिपेंड करते हैं कि वो अपनी शत्रुतापूर्ण नीति को छोड़ता है या नहीं। यहां तक की किम ने चेतावनी दी और कहा कि अगर अमेरिका अपने रुख में बदलाव नहीं लाता, तो उत्तर कोरिया ज्यादा परिष्कृत परमाणु हथियार प्रणाली विकसित करेगा। अब सबकुछ अमेरिका पर निर्भर करेगा कि दोनों देशों के बीच संबंध कैसे रहेंगे।

Loading...

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने कहा कि किम अच्छे रिश्तों के लिए अमेरिका को अपनी शत्रुतापूर्ण नीति खत्म करनी होगी। साथ ही परमाणु हमले पर कहा कि उत्तर कोरिया तब तक परमाणु हथियारों का प्रयोग नहीं करेगा, जब तक कि दूसरे देश ऐसा कोई कदम नहीं उठाते। किम ने कहा कि उत्तर कोरिया को अपनी सैन्य और परमाणु क्षमता को मजबूत करना होगा, क्योंकि देश पर अमेरिकी हमले का खतरा दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है।

हथियार तैयार करने के दिए आदेश
किम ने अधिकारियों को और अधिक हथियार तैयार करने के आदेश दिए जिनमे कई वॉरहेड वाली मिसाइल, पानी के नीचे लॉन्च की जाने वाली परमाणु मिसाइल, जासूसी उपग्रहों और परमाणु ऊर्जा से चलने वाली पनडुब्बियां शामिल हैं। तानाशाह ने कहा कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए अगर हम अपनी सैन्य ताकत में बढ़ोतरी नहीं करते तो ये बहुत मूर्खतापूर्ण होगा। हमें हर खतरे के लिए स्वयं को तैयार करना होगा और दुश्मन को यह अहसास दिलाना होगा कि हम उसे जवाब देने में सक्षम हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/