Breaking News

अंडे खाते वक्त भूलकर भी न करें ये 4 गलतियां, वरना झेलनी पड़ सकती है ये मुसीबतें

हमारे शरीर को तंदुरुस्त रहने के लिए प्रोटीन, कैल्शियम जैसी चीजों की काफी जरूरत होती है। हम अपने भोजन में ऐसी चीजों को शामिल भी करते हैं, जो हमारे ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते हुए हमारी सेहत बनाए रखे। ऐसी ही एक चीज है जिसका सेवन हम करते हैं, और वो है अंडा। अंडे में प्रोटीन की काफी मात्रा पाई जाती है, जो हमारे शरीर के लिए काफी जरूरी है। लेकिन ये बात बेहद ही कम लोग जानते हैं कि अंडे की मदद से भी हम अपना वजन कम कर सकते हैं। बस अंडे का सेवन करते समय कुछ चीजों का ध्यान देना चाहिए। तो चलिए जानते हैं उन गलतियों के बारे में जो हमें अंडा खाते समय नहीं करनी चाहिए।

अंडे खाते समय ये बात ध्यान देनी चाहिए कि कभी भी इनके सेवन के लिए एक समय तय नहीं करना चाहिए। जैसे- अगर आप अंडे सिर्फ सुबह के नाश्ते में खाते हैं या फिर आप अंडे का सेवन सिर्फ रात के समय करते हैं और बाकी समय इसे खाने से बचते हैं, तो आप ये गलती करते हैं। अंडे का सेवन एक निर्धारित समय पर न करके बल्कि किसी भी समय इसको खाया जा सकता है। ऐसा करने से आपके शरीर को इसका फायदा मिल सकता है। इसलिए ये ध्यान देना चाहिए कि अंडे का सेवन आप किसी भी समय कर सकते हैं।

जो लोग अंडे का सेवन करते हैं, उनमें से कई लोग ऐसे होते हैं जो अंडे का सिर्फ बाहरी भाग यानी सफेद वाला हिस्सा खाते हैं और अंदर के पीले वाले भाग को नहीं खाते हैं। इसके पीछे उनका मानना होता है कि पीले भाग को खाकर उनका वजन बढ़ सकता है। लेकिन ऐसा करना गलत है क्योंकि यूएसडीओ के मुताबिक, अंडे के पीले वाले भाग में जो प्रोटीन पाया जाता है वो कुल अंडे का आधा प्रोटीन होता है। इसलिए आप अगर अपने वजन को कम करने के लिए एक पूरे अंडे का सेवन करते हैं, तो आपको इसमें मदद मिल सकती है।

Loading...

अंडे खाने के कई फायदे हैं। इसलिए लोग इनका काफी सेवन करते हैं। वहीं, सर्दियों में तो अंडे की मांग गर्मी के मुकाबले काफी बढ़ जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अंडे का अधिक सेवन करना भी नुकसानदायक हो सकता है। दरअसल, हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग के अनुसार, जो लोग डायबिटीज यानी मधुमेह के रोग से ग्रस्त होते हैं, उन्हें एक सप्ताह में तीन से ज्यादा अंडे का सेवन नहीं करना चाहिए।

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं और इस पर काम कर रहे हों। उन्हें भी अंडे का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए। इसलिए ऐसे लोगों का औसतन तरीके से अंडों का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा जब आप अंडा बनाते हैं तो ध्यान देना चाहिए कि ये किसी अनहेल्दी फैट के साथ तो नहीं बनाया जा रहा है। इसकी जगह पर आप जैतून, एवोकैडो और कैनोला जैसे तेल का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि अगर आप अनहेल्दी फैट का सेवन करते हैं तो आपको मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक जैसी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/