Breaking News

Covid-19 In Uttarakhand: 24 घंटे में 254 नए संक्रमित मिले, नौ मरीजों की मौत

उत्तराखंड में कोविड-19 संक्रमित मरीजों की मृत्यु के मामले थम नहीं रहे हैं. मंगलवार को प्रदेश में 254 नए संक्रमित मिले हैं. वही, बीते 24 घंटे में नौ कोविड-19 संक्रमित मरीजों की मृत्यु हुई है. कुल संक्रमितों का आंकड़ा 92366 हो गया है. वहीं, सक्रिय मरीजों की संख्या 3717 हो गई है. स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार को 12356 सैंपलों की जाँच रिपोर्ट निगेटिव आई है. वहीं, देहरादून जिले में सबसे अधिक 90 कोविड-19 संक्रमित मरीज मिले हैं. नैनीताल में 76, हरिद्वार में 17, ऊधमसिंह नगर में 12, चंपावत में सात, उत्तरकाशी में 10, पिथौरागढ़ में 12, अल्मोड़ा में 10, रुद्रप्रयाग में दो, चमोली में चार, टिहरी जिले में 13, बागेश्वर में एक संक्रमित मिला है. पौड़ी जिले में मंगलवार को एक भी मरीज नहीं मिला है.
वहीं, नौ मृतकों में से एम्स ऋषिकेश में दो, सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में दो, श्री महंत इन्दिरेश हॉस्पिटल में दो, सिनर्जी हॉस्पिटल में एक, हिमालयन हॉस्पिटल में एक, जिला हॉस्पिटल पिथौरागढ़ में एक संक्रमित मरीज ने उपचार के दौरान दमतोड़ा है. इन्हें मिलाकर अब तक प्रदेश में 1544 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है. जबकि मंगलवार को 483 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया. इन्हें मिला कर 85883 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. प्रदेश की रिकवरी दर 93.98 परसेंट फीसदी के करीब पहुंच गई है.
आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने प्रारम्भ की Covid-19 अकादमी
Covid-19 के इलाज और संक्रमण की रोकथाम से सीधे वास्ता रखने वालों को अब प्रदेेश में ही प्रशिक्षण दिया जाएगा. मंगलवार को प्रदेश आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने स्फेयर इंडिया के साथ मिलकर सचिवालय परिसर में Covid-19 अकादमी की प्रदेश में आरंभ की.
सचिव आपदा एसए मुरुगेशन ने वर्चुअल माध्यम से अकादमी की आरंभ की. सचिव ने बताया कि यह अकादमी एनएसएस, एनसीसी, सिविल सोसायटी, आंगनबाड़ी, पंचायत सहित अन्य फ्रंटलाइन वर्कर्स के क्षमता विकास के लिए कार्य करेगी. अकादमी में संबंधित विभागों के जानकार प्रशिक्षण देंगे.

प्रदेश आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यकारी ऑफिसर (प्रशासन) आनंद श्रीवास्तव, स्फेयर इंडिया की प्रदेश समन्वयक कुसुम घिल्डियाल, वंदना चौहान आदि ने बताया कि अभी तक 13 से अधिक राज्यो में कोविड अकादमी के प्रोग्राम जारी हैं. स्काउट एंड गाइड के प्रदेश सचिव रविंद्र काला, डाक्टर अनिल जग्गी आदि ने जानकारी दी.

रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव हरीश शर्मा ने बताया कि प्रदेश में 19 शाखाओं और 20 हजार समाजसेवी इस कोविड संक्रमण से बचाव के लिए कार्य कर रहे हैं. आपदा प्रबंधन सचिव एसए मुरुगेशन ने रेडक्रॉस सोसायटी के माध्यम से 500 साबुन, 800 मास्क वितरित किए. प्रोग्राम में डाक्टर पीडी माथुर, मेजर राहुल जुगरान यूएनडीपी से रंजन वोरा, आईएजीके मेम्बर सुधीर भट्ट, रश्मि पैन्यूली, डाक्टर अनिल वर्मा, हेमा, द्वारिका सेमवाल, जेपी मैठाणी, बीएस रावत आदि शामिल हुए.

कोविड-19 टीकाकरण के लिए नियम बदल दिया गया है. पहले पंजीकरण किया जाएगा और फिर टीका लगेगा. टीकाकरण का पूर्वाभ्यास अब शनिवार के बजाय शुक्रवार (आठ जनवरी) को दस स्थानों पर होगा.

बता दें कि सामान्य टीके पहले लगा दिए जाते हैं और फिर पंजीकरण किया जाता है. मगर कोविड 19 के टीके लिए नियम बदला गया है. टीका लगाने से पहले ही पंजीकरण करना होगा. पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी होने के बाद टीका लगाया जाएगा. खास बात यह होगी कि जिसे टीका लगेगा, उसके मोबाइल पर भी पूरी जानकारी रहेगी. साथ ही कोविन एप के माध्यम से एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा.

टीका लगवाने वाला आदमी यात्रा के दौरान उस प्रमाणपत्र को आवश्यकता पड़ने पर दिखा सकता है. इधर, दौलतपुर, लालकुआं और महिला हॉस्पिटल समेत दस स्थानों पर आठ जनवरी को कोविड-19 टीकाकरण का पूर्वाभ्यास होगा. टीकाकरण के पूर्वाभ्यास के लिए कमरें भी आरक्षित कर दिए हैं.

Loading...

महिला हॉस्पिटल की सीएमएस डाक्टर उषा जंगपांगी ने बोला कि पूर्वाभ्यास को लेकर व्यापक तैयारियां चल रही हैं. सामान्य रोंगों से रोकथाम के लिए पहले टीका लगाया जाता है और बाद में रजिस्ट्रेशन होता है. कोविड-19 टीकाकरण में इसके उल्टा कार्य हो रहा है. सीएमओ डाक्टर भागीरथी जोशी ने बताया कि टीकाकरण के लिए पूर्वाभ्यास की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. सभी ऑफिसरों को उनकी जिम्मेदारियां बांट दी हैं. जिले के पर्वतीय क्षेत्र में भी एक टीकाकरण केन्द्र बनेगा.

एसीएमओ डाक्टर रश्मि पंत ने बताया कि दौलतपुर, लालकुआं और महिला हॉस्पिटल को पहले से ही चयनित किया गया है. इसके अतिरिक्त सुशीला तिवारी हॉस्पिटल , एक निजी हॉस्पिटल , गरमपानी, नैनीताल, रामनगर और कुछ अन्य सीएचसी एवं पीएचसी में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास होगा. बुधवार को पूर्वाभ्यास के लिए स्थानों का चयन हो जाएगा.

हरिद्वार में मुख्य एजुकेशन ऑफिसर डाक्टर आनंद भारद्वाज मंगलवार को कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए. प्रभारी मुख्य शिक्षाधिकारी हनुमंत प्रसाद विश्वकर्मा ने ऑफिस को तीन दिन के लिए बंद करने के आदेश दिए. स्वास्थ्य विभाग ऑफिस के सभी कर्मचारियों की कोविड-19 जाँच की तैयारी कर रहा है. जाँच प्रारम्भ होने तक सभी कर्मचारियों को होम आईसोलेट होने के आदेश दिए गए हैं. मुख्य स्वास्थ्य ऑफिसर स्वयं भी होम आईसोलेट हो गए हैं.

जिले में मंगलवार को 24 नए कोविड-19 संक्रमित मिले. हरिद्वार शहर में सबसे अधिक 12, बहादराबाद छह, लक्सर में तीन और रुड़की में दो लोग संक्रमित पाए गए. वहीं दूसरे प्रदेश के एक आदमी की कोविड-19 रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. सीएमओ डाक्टर एसके झा ने बताया कि जिले में मौजूदा समय में 129 कोविड-19 सक्रिय केस हैं.

इनमें से 34 संक्रमित कोविड केयर सेंटर में भर्ती हैं. 95 संक्रमित होम आईसोलेशन में हैं. सीएमओ ने बताया कि 16 लोगों को स्वस्थ होने के बाद कोविड केयर सेंटर और होम आईसोलेशन से अवमुक्त किया गया है. उन्होंने बताया कि 2472 लोगों के स्वैब सैंपल कोविड-19 जाँच के लिए भेजे गए हैं. 1014 लोगों की कोविड-19 जाँच रिपोर्ट आना बाकी है.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/