Breaking News

फुल मेकअप और कम कपड़ों में झाडू-पोंछा करती है है ये कामवाली, हर काम की लेती है अलग फीस

नई दिल्ली: आज के समय में किसी की जॉब करने की बजाय स्वयं का बिजनेस करना चाहते है. बिजनेस प्रारम्भ करना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन बिना आइडिया के कारण वे पास नहीं हो पाते है. कोविड-19 काल के दौरान कई बड़े बड़े लोगों के बिजनेस डूब गए. नए नए आइडिया पर कार्य करने वाले ही आगे बढ़ रहे है. इंग्लैंड के प्लाइमाउथ में एक कंपनी है जो लोगों को मे प्रोवाइड करती है. कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों ने मेड सर्विस लेना बंद कर दिए थे. जिसके कारण कंपनी बंद होने की स्थिति में आ गई थी. लेकिन आज नौकरानी भेजने के लिए वेटिंग लिस्ट लग गई है.

बंद होने की कगार पहुंच गई थी कंपनी

जी हां, हम बात कर रहे है द नेकेड क्लीनिंग कंपनी की. ये कंपनी इन दिनों सुर्खियों में छाई हुई है. इस कंपनी के दो डायरेक्टर हैं. निक्की बेल्टन और लियन वूलमैन ने इसको प्रारम्भ किया. लेकिन कोविड-19 की वजह से लोगों ने अपने घर में मेड बुलाना बंद कर दिया था. ऐसे में इनकी कंपनी बंद होने के कगार पहुंच गई थी.

नेकेड कामवाली प्रोवाइड करने का ऑफर

यूके में मेड सर्विस देने वाली द नेकेड क्लीनिंग फर्म इन दिनों चर्चा में है. जहां कोविड-19 के कारण यहां से लोग सर्विस नहीं ले रहे थे वहीं अब यहां लोगों की वेटिंग लिस्ट लग गई है. ये फर्म लोगों को मेड प्रोवाइड करती है. कंपनी की बेकार हालत को देखकर दोनों डायरेक्टर बहुत ज्यादा दुखी हुए. तभी निक्की को एक यूनिक कांसेप्ट आइडिया आया. वे नेकेड कामवाली प्रोवाइड करने का ऑफर लेकर आए. इस फर्म से रजिस्टर्ड नौकरानियां घरों में बिना कपड़ों के कार्य करती हैं. इसके साथ ही सभी अच्छा सा मेकअप कर कार्य करने जाती हैं.

Loading...

हर कार्य की अलग फीस

निक्की का बोलना है कि इस ऑफर की वजह से उनके पास बहुत सारे क्लाइंट्स बन गए. कोविड-19 के बाद बाजार में उनकी बहुत ज्यादा डिमांड बढ़ा दी है. कंपनी ने इस कामवाली के लिए कार्य करने को लेकर भिन्न भिन्न फीस तय कर रखी है. कंपनी के अनुसार, मेड 6700 रुपए लेकर आपके कपड़े धो देगी. इसके अतिरिक्त बाथरूम साफ़ करने के बदले उन्हें साढ़े आठ हजार रुपए देने होंगे. सबसे खास बात ये सभी फीस घंटे के हिसाब से तय की गई है.

कई लोगों ने किया विरोध

कई लोगों को कंपनी का यह ऑफर बहुत पसंद आया लेकिन कुछ लोगों को रास नहीं आया. इस ऑफर की वजह से कंपनी को बहुत ज्यादा आलोचनाएं भी झेलनी पड़ी. कई लोगों ने उनका विरोध किया. लेकिन क्लाइंट्स की तरफ से अच्छे फीडबैक की वजह से ये आइडिया अभी भी चल रहा है. अभी ये कंपनी यूके में सर्विस देती है. बताया जा रहा है कि हाल के परफॉर्मेंस के बाद अब इसे अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और दुबई जैसे राष्ट्रों में प्रारम्भ करने का प्लान बनाया जा रहा है.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/