Breaking News

मोदी सरकार ने कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को लेकर दी यह टूक

मोदी सरकार ने शुक्रवार को कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों से दो टूक लहजे में कहा है कि उन्हें आंदोलन छोड़कर बातचीत का रास्ता अपनाना चाहिए।

कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि सरकार को मीडिया से ही मालुम हुआ है कि किसानों ने सरकार द्वारा नए कृषि कानूनों पर भेजे गए प्रस्ताव को ठुकरा दिया है।

Loading...

उल्लेखनीय है कि सरकार ने हाल ही में एक 20 पन्नों का प्रस्ताव किसानों के पास पहुंचाया था और अनुरोध किया था कि वे अपना आंदोलन ख़त्म कर दें। इस प्रस्ताव में कानून में कई प्रकार करने के बदलाव की बात की गई थी। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि, ”हमारे प्रस्ताव में, हमने उनकी आपत्तियों के निराकरण का सुझाव देने की कोशिश की है। उन्हें आंदोलन छोड़कर बातचीत का रास्ता अपनाना चाहिए। सरकार बातचीत के लिए राजी है।”

नरेंद्र सिंह तोमर ने दावा करते हुए कहा कि सरकार ने जो कानून बनाए हैं, वे किसानों की जिंदगी में परिवर्तन लाने के लिए बनाए गए हैं। तोमर ने आगे कहा कि, ”कानूनों में यह सुनिश्चित किया गया है कि किसान बेहतर जिंदगी जी सकें और लाभकारी कृषि में जा सकें।” उन्होंने कहा कि, मुझे लगता है कि बातचीत से समाधान मिल जाएगा। मुझे उम्मीद है। मैं किसान संगठनों से अनुरोध करना चाहूंगा कि वे गतिरोध को तोड़ें। सरकार ने उन्हें एक प्रस्ताव भेजा है। यदि किसी अधिनियम के प्रावधानों पर आपत्ति है, तो इस पर बातचीत करें।”

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/