Breaking News

सेमल के नए पौधे से मिलेगा आपको इन रोगो से निजात

सेमल के नए पौधे की जड़ को सेमल का मूसला कहते हैं. इसके बीज कोमल होते है; और काँटों में फोड़े, फुंसी, घाव आदि दूर करने का गुण होता है इनकी छाल, पत्ते,फूल व बीज का उपयोग किडनी गनोरिया सहित कई रोगों के निदान के लिए किया जाता है. मान्यता है कि इन्हें आंगन में लगाने पर सांप आदि विषैले जीव जंतु घर में नहीं आते.

सेमल के फायदे –

Loading...

1- सेमल के पत्तों को पीसकर लगाने या बाँधने से गाँठों की सूजन कम हो जाती है.
2-अगर माताओं को दूध कम आता हो तो इसकी जड़ की छाल का पावडर लें .
3-सेमल  के तने पर नुकीले कांटे होते हैं, इन काँटों को इकठ्ठा करके इन्हें कुचल कर इसका चूर्ण तैयार किया जाये और करीब आधा चम्मच चूर्ण को 5 मिलीलीटर मतलब लगभग एक चम्मच दूध में मिला लिया जाये और इस मिश्रण को आँखों के नीचे काले धब्बों वाले स्थान पर लगाये और करीब आधे घंटे तक लगा रहने दें और बाद में इसे साफ़ पानी से धो लें. सुबह और रात में इस नुस्खे को  एक महीने तक लगातार दोहराएँ  तो काफी लाभ मिलेगा.
4-अगर  खांसी हो तो सेमल की जड़ का पावडर काली मिर्च और सौंठ बराबर मात्रा में  मिलाकर लें .

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/