Breaking News

जानिए, आखिर क्या है उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच विवाद? क्यों बने एक दूसरे के दुश्मन?

उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बारे में तो आपने सुना ही होगा। क्या आपको पता है कि ये दोनों देश पहले एक ही थे, जैसे भारत और पाकिस्तान, जिन्हें सिर्फ कोरिया नाम से जाना जाता था। लेकिन एक समय ऐसा आया जब कोरिया का विभाजन हो गया और उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया नामक दो देश बने। आज इन दोनों के बीच हालात ऐसे हैं कि दोनों एक दूसरे को देखना तक पसंद नहीं करते हैं। दोनों के बीच की दुश्मनी जगजाहिर है। आइए जानते हैं आखिर उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच विवाद क्या है? ये दोनों देश क्यों एक दूसरे के दुश्मन बने हुए हैं?

कोरिया 1948 तक संयुक्त था। दरअसल, 1910 में कोरिया पर जापान ने जबरन कब्जा कर लिया था और यह कब्जा अगस्त 1945 में द्वितीय विश्व युद्ध के अंत तक बना रहा। जब जापानियों ने हथियार डाल दिया, उसके बाद सोवियत संघ की सेना ने कोरिया के उत्तरी भाग को अपने कब्जे में ले लिया जबकि दक्षिणी हिस्से को अमेरिका ने अपने कब्जे में। फिर शुरू हुआ कोरिया के दोनों हिस्सों में साम्यवाद और लोकतंत्र को लेकर संघर्ष।

अब चूंकि सोवियत संघ और अमेरिका दोनों पहले से ही एक दूसरे के घोर विरोधी थे, ऐसे में कोरिया भी उनकी दुश्मनी की भेंट चढ़ गया। कोरिया के दोनों हिस्सों उत्तर और दक्षिण के बीच जून, 1950 में युद्ध शुरू हो गया। अमेरिकी सेना के साथ 15 अन्य देश दक्षिण कोरिया के साथ आए तो वही उत्तर कोरिया का साथ रूसी और चीनी सेना ने दिया। लगभग तीन साल तक चला यह युद्ध साल 1953 में खत्म हो गया और दो स्वतंत्र राष्ट्र बने, जिन्हें आज उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नाम से जाना जाता है।

Loading...

अब चूंकि उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया दोनों अलग स्वतंत्र राष्ट्र बन तो गए हैं, लेकिन विभाजन के बावजूद आज भी इन दोनों के बीच तनाव बरकरार है। कहते हैं कि 1968 में उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति की हत्या की नाकाम कोशिश की थी, जिसने इन दोनों देशों के बीच के तनाव को और बढ़ा दिया।

इसके अलावा 1983 में म्यांमार में एक बम धमाका हुआ था, जिसमें दक्षिण कोरिया के 17 नागरिक मारे गए थे। इस धमाके का तार उत्तर कोरिया से जोड़ा गया। उत्तर कोरिया पर दक्षिण कोरिया के विमान पर बम बरसाने का आरोप लगा। ऐसे में इनके बीच तनाव कभी न खत्म होने वाली दुश्मनी बन गई।

 

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/