Breaking News

रिलायंस रिटेल व अर्बन लैडर के बीच हुआ इतने करोड़ रुपये का सौदा, जाने

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) ने ऑनलाइन फर्नीचर स्टार्टअप अर्बन लैडर होम डेकोर सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड की 96 फीसदी हिस्सेदारी को खरीद लिया है।

रिलायंस और अर्बन लैडर के बीच यह सौदा 182.12 करोड़ रुपये में हुआ है। इसके अलावा रिलायंस के पास बाकी बचे इक्विटी शेयर्स खरीदने का विकल्प भी है। इससे कंपनी को अर्बन लैडर की 100 फीसदी शेयर होल्डिंग हासिल हो जाएगी।
रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड अर्बन लैडर में 75 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस निवेश प्रक्रिया को पूरा होने में दिसंबर 2023 तक का समय लगेगा। भारत में अर्बन लैडर की शुरुआत 17 फरवरी, 2012 में हुई थी। आठ साल पुरानी स्टार्टअप कंपनी होम फर्नीचर और डेकोर उत्पादों की बिक्री डिजिटल प्लेटफॉर्म पर करती है। इसके अलावा अर्बन लैडर की भारत में कई शहरों में खुदरा स्टोरों की एक श्रृंखला भी है।

साल 2018 में ऑनलाइन फर्नीचर रिटेलर अर्बन लैडर की वैल्यू 1200 करोड़ रुपये आंकी गई थी, जो साल 2019 में गिरकर 750 करोड़ रुपये हो गई। स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग के मुताबिक, 2019 में अर्बन लैडर का टर्नओवर 434 करोड़ रुपये था। इस साल कंपनी को 49.41 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ।

Loading...

रिलायंस रिटेल ने कहा, इस निवेश के जरिए ग्रुप के डिजिटल और नई वाणिज्यिक पहलों में बढ़ावा होगा और रिलायंस ग्रुप द्वारा प्रदान किए गए उपभोक्ता उत्पादों के दायरे में भी बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा उपभोक्ताओं को रिटेल खरीददारी में अधिक विकल्प मिलेंगे।

हाल के वर्षों में अर्बन लैडर को चुनौतिपूर्ण परिस्थितियों का सामना करना पड़ा है। साल 2012 में आशीष गोयल और राजीव श्रीवत्स द्वारा शुरू की गई कंपनी को सिकोइया कैपिटल, सैफ पार्टनर्स, कलारी कैपिटल और हेज फंड स्टीडव्यू कैपिटल जैसे शीर्ष उद्यम पूंजी कोषों से 700 करोड़ रुपये से अधिक धन मिला। लेकिन इसके बाद दो साल से कंपनी को पूंजी बढ़ाने में कठिनाई होने लगी। पिछले साल नवंबर में कंपनी को 15 करोड़ रुपये की पूंजी मिली।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/