Breaking News

पराली जलाने के आरोप में जेल भेजे गए पांच किसान, कॉलर पकड़कर खींचते ले गए प्रभारी निरीक्षक 

मैनपुरी जनपद में अब तक पराली जलाने के कई मामले सामने आ चुके हैं और एफआईआर भी दर्ज हुईं, लेकिन गुरुवार को पहली बार पराली जलाने के आरोप में पांच किसानों को जेल भेजा गया।

मामला किशनी क्षेत्र का है। गुरुवार को एसडीएम रामसकल मौर्य पुलिस बल और उप कृषि निदेशक डीवी सिंह के साथ क्षेत्र में चेकिंग के लिए निकले। इस दौरान पराली जलाने के पांच मामले सामने आए।

किसान भूरे पुत्र राजेंद्र सिंह निवासी नगला अखे, राजेंद्र सिंह पुत्र कोमल सिंह निवासी पृथ्वीपुर, प्रदीप पाल पुत्र रतन सिंह निवासी उजागरपुर, उदयप्रताप पुत्र सोवरन सिंह और रामकैलाश पुत्र लखन सिंह निवासी अजीजपुर के खेत में पराली जलाई गई थी। मौके पर ही पुलिस ने पांचों किसानों को हिरासत में लेकर एसडीएम कोर्ट में पेश किया। यहां से एसडीएम ने उन्हें जेल भेज दिया। क्षेत्र के साथ-साथ पूरे जिले में इस बात की चर्चा है। क्योंकि पहली बार पराली जलाने के मामले में किसानों को जेल भेजा गया है।
किसान को कॉलर पकड़कर खींचते हुए ले गए प्रभारी निरीक्षक
पराली जलाने के मामले में एसडीएम किशनी रामसकल मौर्य के आदेश पर प्रभारी निरीक्षक थाना किशनी अजीत सिंह ने मौके से ही किसानों को हिरासत में ले लिया। वह किसानों को कॉलर पकड़कर खींचते हुए ले गए।

Loading...

पराली जलाने के मामले में पुलिस ने पांच किसानों को न्यायालय में पेश किया गया था। पुलिस कार्रवाई के आधार पर ही पांचों किसानों को जेल भेजा गया है। रामसकल मौर्य, एसडीएम, किशनी।

 

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/