Breaking News

अब दुकानदार को Card दिए बगैर ही कर सकेंगे Payment, ये बैंक शुरू करेगा खास सर्विस

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक (IDFC First Bank) एक हफ्ते के अंदर सेफ पे (SafePay) सुविधा लॉन्च करने जा रहा है। इस डिजिटल सुविधा के जरिए ग्राहक बिना संपर्क किए ही अपने स्मार्टफोन के जरिए प्वाइंट ऑफ सेल (पीओएस) टर्मिनल द्वारा मान्य नीयर फील्ड कॉन्युनिकेशन (एनएफसी) पर भुगतान कर सकते हैं। सेफपे के जरिए 2,000 रुपये प्रति लेन-देन तक का भुगतान किया जा सकता है और इसकी दैनिक सीमा 20,000 रुपये तक की है। इसके जरिए रोजमर्रा की खरीदारी की जा सकती है।

Not only card but you can also pay with your finger, will even get reward |  कार्ड नहीं अब अंगूठे से करें आधार के जरिए पेमेंट, इनाम भी देगी सरकार

सेफपे के जरिए आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के मोबाइल ऐप (IDFC First Bank App) में ही नीयर फील्ड कम्युनिकेशन (एनएफसी) को शामिल किया जाएगा, जिसके जरिए बैंक द्वारा जारी डेबिट कार्ड (Debit Card) से सुरक्षित भुगतान किया जा सकता है। सेफपे भुगतान में सोशल डिस्टेंसिंग का सपोर्ट करता है और इसके इस्तेमाल से ग्राहकों को न तो कार्ड अपने साथ रखना होगी और न ही उसे खरीदारी के समय मर्चेंट (दुकानदार) को सौंपना होगा।

ग्राहक अपने फोन को आसानी से घुमाकर भुगतान कर सकते हैं। इससे न सिर्फ लेन-देन की प्रक्रिया संपर्क रहित होती है, बल्कि तेज, सुरक्षित और सरल भी होती है। यह इस तरह की पहली ऐसी तकनीक है, जिसे मोबाइल ऐप के साथ जोड़ा जा रहा है। सेफ पे के फीचर्स का सफल परीक्षण किया गया है और इसे वीज़ा द्वारा मान्यता दी गई है। अगले एक सप्ताह में यह बैंक के मोबाइल ऐप के जरिए ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगी।

Loading...

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक की खुदरा देनदारी के प्रमुख अमित कमार ने कहा कि वायरलेस दुनिया में लोग भुगतान का तरीका बदलना चाहते हैं। अभी तक, सुविधा डिजिटल भुगतानों को अपनाने के लिए चला रही है। अब, महामारी ने इसकी रफ्तार बढ़ा दी है। डिजिटल दुनिया में हमें एनएफसी तकनीक की भूमिका विशेष रूप से महत्वपूर्ण होती नजर आ रही है।

उन्होंने कहा कि सेफपे के जरिए भुगतान का अनुभव बेहतर और प्रतिरोधहीन बनता है। कार्डधारक के लिए कार्ड को भौतिक रूप से अपने पास रखने की जरूरत खत्म हो जाती है और अंतत: कार्ड गुम होने का चिंता भी खत्म हो जाती है। ग्राहक चंद पलों में भुगतान कर स्टोर्स से निकल सकते हैं। वीज़ा के इंडिया और दक्षिण एशियाई प्रोडक्ट प्रमुख अरविंद रोन्टा ने कहा कि जैसा कि ग्राहक प्राथमिकता डिजिटल भुगतान को वरीयता दे रहे हैं, वैसे ही भुगतान प्रदातों को भी उनकी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम होना चाहिए, चाहे वह भौतिक कार्ड के माध्यम से हो या निकट सर्वव्यापी स्मार्टफोन। इस तरह की जरूरतों को पूरा करने के लिए, हमें खुशी है कि हम आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के ग्राहकों के लिए टैप-टू-पे लेनदेन शुरू कर रहे हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/