Breaking News

76 वर्ष बाद 31 अक्टूबर को आसमान में दिखेगा अद्भुत नजारा, जानिए क्यों दिखेगा नीला चांद?

नई दिल्ली:  76 वर्ष बाद आकाश में एक अद्भुत और दुर्लभ नजारा दिखाई देने वाला है. दुनिया में 31 अक्टूबर को ब्लू मून ( Watch Blue Moon ) दिखाई देगा. ज्योतिषी  वैज्ञानिक इसे भिन्न-भिन्न रूप में देख रहे हैं. बताया जा रहा है कि साल 1944 के बाद पहली बार ऐसा नजारा देखने को मिलेगा. ब्लू मून को साउथ अमेरिका, इंडिया , यूरोप, एशिया समेत सारे विश्व से देखा जा सकेगा. बताया ये भी जा रहा है कि 31 अक्टूबर के बाद ऐसा नजारा फिर 19 वर्ष बाद ही देखने को मिलेगा. लोग हेलोवीन के दिन इस दृश्य का बेसब्री से इन्तजार कर रहे हैं.

31 अक्टूबर को दिखाई देगा नीला चांद

इस वर्ष 31 अक्टूबर को आसमान में नीला चांद दिखाई देगा. जानकारों के मुताबिक, पूर्णिमा एक महीने में 2 बार दिखाई देती है, उसे ब्लू मून बोला जाता है. 2020 में अक्टूबर के महीने में लोग दो बार पूर्णिमा भी देखेंगे. पहली पूर्णिमा 1 अक्टूबर को  दूसरी पूर्णिमा 31 अक्टूबर को होगी. यह संयोग बहुत ही कम होता है. आमतौर पर वर्ष में 12 पूर्ण चंद्रमा होते हैं इस बार यह 13 हो जाएगा.

Loading...

7वर्ष बाद दिखेगा अद्भुत नजारा

कहा जाता है कि यह दृश्य द्वितीय विश्व युद्ध के समय पूरी दुनिया में देखा गया था. इसका मतलब है कि लोग इसे 76 वर्ष बाद देख पाएंगे. अर्थ स्काई की एक रिपोर्ट के अनुसार, ब्लू मून नाम का एक नीला चांद सोशल मीडिया पर दिखाया जाता है, जोकि तथ्य नहीं है. ब्लू मून 1944 में देखा गया था, लेकिन यह नीला नहीं था. इस वर्ष का ब्लू मून उत्तर-दक्षिण अमेरिका के अतिरिक्त भारत, यूरोप  एशिया के अन्य राष्ट्रों में भी देखा जाएगा. बता दें कि वर्ष 2020 कोविड-19 महामारी के संकट के अतिरिक्त कई दुर्लभ खगोलीय घटनाओें का भी साक्षी रहा है.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/