Breaking News

राफेल में उड़ान भरेंगी महिला फाइटर पायलट! ‘नारी शक्ति’ के आगे दुश्मन की हालत होगी पस्त

भारतीय सेना की ताकत से पूरा विश्व वाकिफ है और वायुसेना के बेड़े में जिस दिन से राफेल लड़ाकू विमान शामिल हुआ है. उसी दिन से दुश्मन देशों की हालत पस्त हो चुकी है और अब तो दुश्मन को चुनौती देने के लिए महिला पायलट की एंट्री राफेल के स्क्वाड्रन में होने वाली है. जी हां, अब दुश्मन को जवाब नारी शक्ति देगी. लड़ाकू विमान राफेल को वायुसेना की 17वीं स्क्वाड्रन में शामिल किया गया है और इसमें शामिल करने के लिए दस महिला फाइटर पायलट को ट्रेनिंग दी जा रही है. उम्मीद जताई जा रही है कि, इन 10 महिला पायलट्स में से किसी एक का चयन हो सकता है.

देश को नारी शक्ति पर भरोसा
भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल हुए राफेल विमान को उड़ाने का मौका जिन महिला पायलटों को मिल रहा है. वह फिलहाल मिग-21 पर तैनात हैं और राफेल उड़ाना आसान नहीं होता. इसके लिए उन्हें एक ट्रेनिंग से गुजरना होगा औरrafale fighterफिर बोलचाल की ट्रेनिंग भी जरूरी होती है. क्योंकि राफेल उड़ाते हुए जिस भाषा का इस्तेमाल होता है उसमें और मिग को उड़ाने में काफी अंतर होता है. इसलिए इसकी ट्रेनिंग जरूरी भी होती है और लंबी भी होती है.

10 महिला फायटर पायलट
भारतीय वायुसेना में जो दस महिला फायटर पायलट हैं वह कई लड़ाकू विमानों में उड़ान भर रही हैं. 2016 में फ्लाइट लेफ्टिनेंट अवनी चतुर्वेदी, फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना, फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह शुरुआती फाइटर पायलट बनी थीं और शुरुआत से ही यह लड़ाकू विमानों को उड़ा रही हैं.

Loading...

संसद में रक्षा मंत्रालय का बयान
राफेल के लिए महिला पायलट की जरूरत को लेकर रक्षा मंत्रालय ने हाल ही में संसद में बयान दिया था. जिसमें मंत्रालय का कहना था कि, जरूरत और रणनीति के हिसाब से ही महिला फाइटर पायलट को वायुसेना में शामिल कराया जा रहा है. इसमें वक्त पर बदलाव भी हो रहे हैं.rafale fighter 1बता दें, इस वायुसेना में महिला पायलटों की संख्या काफी कम है लेकिन अब नारी शक्ति पर भरोसा जताते हुए महिला पायलट की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है.बता दें, भारतीय वायुसेना को 4231 पायलटों की जरूरत है लेकिन अब भी 300 लड़ाकू पायलटों की कमी है.

36 विमान आएंगे भारत
इस महीने धूमधाम के साथ राफेल लड़ाकू विमान को वायुसेना में शामिल किया गया. ये विमान लद्दाख के आसमान में दुश्मन को आंख दिखा चुके हैं. राफेल की पहली खेप भारत पहुंची है लेकिन 2021 तक 36 विमान भारत पहुंच जाएंगे और इनके आते ही सेना की ताकत में भारी इजाफा होगा.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/