Breaking News

सऊदी अरब ने चीन को दिया बड़ा झटका, इन Deals को टालने का किया फैसला – भारत को भी डर

चीन को बड़ा झटका देते हुए सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी ने चीन के साथ 10 अरब डॉलर की रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल्स कॉम्प्लेक्स बनाने को लेकर हुए समझौते से पीछे हट गया है। खबर के मुताबिक सऊदी की कंपनी ने तेल की गिरती कीमतों की वजह से चीन के साथ हुई डील को टालने का फैसला किया है।

सऊदी अरब भी चीन के साथ, उइगर ...

कोरोना महामारी की वजह से पूरी दुनिया में तेल की खपत कम हुई है। मांग कम होने से तेल की कीमतों में भारी गिरावट दर्ज हुआ है। सऊदी के लिए ये स्थिति इसलिए और ज्यादा चुनौतीपूर्ण है क्योंकि उसकी अर्थव्यवस्था मुख्यत: तेल पर ही आधारित है। दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी अरामको ने महाराष्ट्र में भी प्रस्तावित 44 बिलियन डॉलर के रत्नागिरी मेगा रिफाइनरी प्रोजेक्ट में निवेश का ऐलान किया था। वहीं अब एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर तेल की खपत यूं ही गिरती रही और तेल की कीमतें गर्त में जाती रहीं तो सऊदी भारत में भी निवेश करने से पीछे हट सकता है।

Loading...

सऊदी अरब को बड़ा झटका! तेल कंपनी ...

सऊदी की कंपनी अरामको की तरफ से अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया गया है। समझौते में शामिल चाइना नॉर्थ इंडस्ट्री ग्रुप कॉर्पोरेशन या नॉरोनिको ने भी इस पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। पिछले साल फरवरी महीने में जब सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान चीन के दौरे पर गए थे तो इस समझौते पर दोनों देशों ने हस्ताक्षर किए थे।  सऊदी अरब एशिया के बाजार में अपनी पहुंच बढ़ाना चाहता था। इसके साथ ही सऊदी ने अपने यहां चीनी निवेश को भी प्रोत्साहित किया।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/