Breaking News

चीन के इरादे नेक नहीं, भारत से लगी पूरी सीमा पर बढ़ाई सैनिकों की संख्या : पोम्पियो

वॉशिंगटन। लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे सैन्‍य गतिरोध के बीच अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने ड्रैगन सेना के मूवमेंट के बारे में अहम जानकारी दी है। पोम्पिओ ने कहा है कि चीन ने भारत के साथ लगी अपनी वास्‍तविक नियंत्रण रेखा पर सैनिकों की संख्या बहुत बढ़ा दी है। पोम्पिओ ने कहा कि चीन का अधिनायकवादी नेतृत्‍व इस तरह के कदम उठाता रहता है। उन्‍होंने आरोप लगाया है कि चीन जमीनी स्तर पर अपनी ‘रणनीतिक स्थिति’ का अपने लाभ के लिए इस्‍तेमाल कर रहा है और दूसरों के लिए खतरा पैदा कर रहा है।

अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा हम स्पष्ट देख रहे हैं कि चीन की ओर से बड़ी संख्‍या में सैनिक भारत में वास्‍तविक नियंत्रण रेखा पर तैनात किए गए हैं। उन्होंने कहा कि चीन की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी लगातार कोरोना वायरस को लेकर सूचनाएं छिपा रही है। चीन ने हांगकांग के लोगों की स्‍वतंत्रता को नष्‍ट करने के लिए कदम उठाए हैं। उन्‍होंने कहा ये केवल चीन के सत्‍ताधारी कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी के व्‍यवहार के दो उदाहरण हैं। अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ ने आरोप लगाया कि चीन जमीनी स्तर पर अपनी रणनीतिक स्थिति का अपने लाभ के लिए उपयोग कर रहा है। भारत के साथ लगी अपनी सीमा पर भी वह लंबे समय से इसी तरह की हरकत कर रहा है।

Loading...

चीन-भारत सीमा पर और दक्षिण चीन सागर को लेकर चीन के आक्रामक रवैए के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में पोम्पिओ ने कहा कि चीन की तरफ से पैदा किया जा रहा यह खतरा बहुत वास्तविक है। उन्होंने कहा इस दिशा में चीनी कम्यूनिस्ट पार्टी लंबे समय से प्रयास कर रही है। निश्चित तौर पर जमीन पर उनको रणनीतिक स्थिति का फायदा होता है। लेकिन, आप किसी भी समस्या को चिन्हित करें तो लंबे समय से उस दिशा में वे काम कर रहे हैं।’ पोम्पिओ ने कहा कि खतरा देखें तो भारत के साथ लगी सीमा पर जो हो रहा है उसके लिए वे लंबे समय से प्रयास कर रहे हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/