Breaking News

ISIS में शामिल होने के लिए पांच वर्ष पहले सीरिया भागी लड़की की नागरिकता हुई रद

लंदन. ब्रिटेन से एक मुस्लिम युवती ( British woman in isis ) की नागरिकता को लेकर बड़ा मुद्दा सामने आ रहा है. शमीमा बेगम ( Shamima Begum ) नाम की यह युवती अपनी नागरिकता बरकरार रखने की कानूनी लड़ाई पराजय चुकी है. देश ने राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर शमीमा की नागरिकता रद्द कर दी है. आपको याद दिलाते चलें कि 2015 शमीमा समेत तीन स्कूली छात्राएं सीरिया भाग गई थीं.

होम सेक्रेटरी साजिद जाविद ने निरस्त की थी नागरिकता

तीनों लड़कियां पूर्वी लंदन के एक स्कूल में पढ़नेवाली हैं. 2015 में तीनों ही इस्लामिक स्टेट में शामिल होने के लिए सीरिया भागीं थी. तीनों लड़कियां बीते वर्ष सीरिया के ही एक शरणार्थी शिविर में मिली थी. इस दौरान इन्होंने घर वापस लौटने को लेकर ख़्वाहिश जताई थी. हालांकि, ब्रिटेन ने इनको देश वापस लेने से मना कर दिया है. ब्रिटेन के होम सेक्रेटरी साजिद जाविद ने शमीमा की नागरिकता निरस्त कर दी थी.

Loading...

आव्रजन आयोग ने भी बरकरार रखा पुराना फैसला

इसके बाद शमीमा ने इस निर्णय को चुनौती देने के लिए आव्रजन अपील आयोग में चुनौती दी थी. आयोग में शमीमा ने दलील रखी दी थी कि उसके पास ब्रिटेन के अतिरिक्त किसी दूसरे देश की नागरिकता नहीं है व जाविद के निर्णय के चलते राज्यविहीन हो गई है. हालांकि, आयोग के सामने इन तर्कों का कोई प्रभाव नहीं हुआ व शुक्रवार अपने निर्णय में आयोग ने जाविद के आदेश को बरकरार रखा.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/