Breaking News

अखिलेश यादव ने कार्यकर्ताओं से 2019 की जीत की अभी से तैयारी करने का किया आह्वान

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से आज काफ़ी बड़ी संख्या में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, विधायकों , कार्यकर्ताओं एवं समर्थकों ने मिलकर उन्हें कैराना एवं नूरपुर क्षेत्र में मिली जीत पर बधाइयाँ दी। अखिलेश यादव ने सभी को धन्यवाद दिया और 2019 की लड़ाई की अभी से तैयारी करने का आह्वान किया।

पुलिस भर्ती में धांधली की शिकायतों को लेकर नौजवानों से की मुलाकात 

श्री जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट, लखनऊ में आज पुलिस भर्ती में धांधली की शिकायतों को लेकर नौजवानों के दल के अलावा शामली के श्री सुधाकर कश्यप के साथ कश्यप समाज के प्रतिनिधिमण्डल एवं महिलाओं ने भेंट की। आज उनसे भेंट करने वाले नेताओं में प्रमुख थे सर्वश्री अहमद हसन,  राजेन्द्र चौधरी, नरेश उत्तम पटेल, अबरार अहमद,  एसआरएस यादव, अरविन्द कुमार सिंह, उदयवीर सिंह, महफूज फरीद किदवई, लाल सिंह तोमर, बाल कुमार पटेल, विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह, सुनील यादव साजन, स्वामी ओमवेश, मुकेश चौधरी, अमिताभ बाजपेयी, राजपाल कश्यप, यशपाल चौहान, शंखलाल मांझी, मो0 रेहान, लियाकत अली, नागेन्द्र यादव मुन्ना, रूचिवीरा, आलोक तिवारी आदि।
श्री यादव से भेंट कर्ताओं ने कहा कि वे उनके नेतृत्व में अन्याय के विरूद्ध संघर्ष करेंगे, कश्यप समाज के नेताओं ने कहा कि 17 जातियों की उपेक्षा की जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जी ने कहा कि जनगणना के आधार पर आबादी को आनुपातिक अवसर, अधिकार और सम्मान मिलना चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जनसमूह को किया सम्भोदित 

अखिलेश यादव ने एकत्रित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी सिद्धांत की राजनीति करती है। भाजपा जातिवादी राजनीति करती है, और भाजपा नफरत फैलाकर समाज को बांटने में लगी है। उन्होंने कहा कि चालबाजी से देश आगे नहीं जा सकता है, लोकतंत्र को बचाने के लिए जनता को तैयार रहना है। श्री यादव ने कहा कि भाजपा के पास जनता के लिए कोई सार्थक मुद्दा नहीं है सिवाय इसके कि समाजवादी पार्टी के विरूद्ध षडयंत्र में भाजपा व्यस्त रहती है। उन्होंने कहा कि कैराना-नूरपुर और गोरखपुर-फूलपुर में भाजपा की पराजय और विपक्ष की जीत से स्पष्ट है कि जनता भाजपा से नाराज और दुखी है। वैसे भाजपा लोगों का ध्यान उनकी समस्याओं से हटाने में चतुर है परन्तु जनता भी अपना हित पहचानती है।

जनता के पास है जवाब देने की ताकत: अखिलेश यादव

भाजपा को जवाब देने की ताकत जनता के पास है, भाजपा सद्भाव की दुश्मन है जबकि समाजवादी पार्टी सामाजिक सौहार्द की पक्षधर है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की नीति पूर्ण रूप से किसान विरोधी है। केन्द्र और राज्य की सरकारों ने किसानों को धोखा दिया है और बुरी तरह तबाह किया है।  उन्होंने पूछा फसल उत्पादन लागत का 1.5 गुना दाम देने के वादे का क्या हुआ?  2022 तक किसानों की आय दुगनी करने के वादे का क्या होगा? आखिर किसानों की आत्महत्या क्यों नहीं रूक रही है। श्री यादव ने इस प्रसंग में मध्य प्रदेश में किसानों के असंतोष और 01 जून से 10 जून 2018 तक गांव बंद के साथ कृषि उपजों की सप्लाई बंद का उल्लेख किया और कहा कि किसानों की समस्याओं को कोई सुनने वाला नहीं है। किसान अपने को उपेक्षित महसूस कर रहा है। उत्तर प्रदेश में अभी तक गन्ना किसानों के बकाये का भुगतान नहीं हुआ है।
2019 भारत के भविष्य का है चुनाव
अखिलेश यादव ने कहा कि 2019 में भारत के भविष्य का चुनाव है, चीन- जापान कहाँ से कहाँ तक पहुंच गए। विकास की दौड़ में भारत अगर पीछे छूट गया तो उसके कारणों का विश्लेषण होना चाहिए और यह पता होना चाहिए कि कौन सी ताकतों ने देश की तरक्की में रोड़ा अटकाया है। 70 वर्ष की आजादी को अर्थहीन बनाना राष्ट्रीय अपराध है।
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/