Breaking News

अभी-अभी : बुआ ने बबुआ से मांगी जीत की कीमत ?

लखनऊ: यूपी की दो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में समर्थन के एवज में बीएसपी ने समाजवादी पार्टी से राज्यसभा चुनाव में समर्थन मांगा था। बीएसपी के समर्थन से एसपी सूबे की फूलपुर और गोरखपुर सीट जीतने में कामयाब तो हो गई, लेकिन राज्यसभा चुनाव में बीजेपी के 9वें उम्मीदवार की वजह से बीएसपी-एसपी के साथ आने और राज्यसभा चुनाव को लेकर की गई प्लानिंग मुश्किल में आ गई है।
यही वजह है कि मायावती ने अब अखिलेश को ‘रिटर्न गिफ्ट’ सुनिश्चित करने को कहे जाने की जानकारी मिल रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने राज्यसभा चुनाव के लिए, अखिलेश यादव से अपने उम्मीदवार भीमराव अंबेडकर के समर्थन के लिए 10 समर्पित विधायकों को अलॉट करने को कहा है।
BHIM.png (710×448)
माया ने अखिलेश से समर्पित एसपी विधायकों को ही अलॉट करने को कहा है, ताकि उनके 10 वोट पक्के हो सकें और क्रॉस वोटिंग से बचा जा सके। मायावती के करीबी सूत्रों की मानें तो गोरखपुर और फूलपुर में एसपी कैंडिडेट को जीत दिलाने के बाद मायावती ने अखिलेश से ये मांग की है। उधर खबर है कि मायावती की इस मांग ने अखिलेश यादव को परेशान कर दिया है।
JAYA.png (710×448)
ऐसा इसलिए, क्योंकि अगर अखिलेश ऐसा करते हैं, तो खुद उनके लिए अपने उम्मीदवार जया बच्चन को जीत दिलाना मुश्किल हो सकता है। विधानसभा में एसपी के कुल 47 विधायक हैं। एक राज्यसभा सीट के लिए 37 वोट की जरूरत है। लेकिन अगर बीएसपी उम्मीदवार को 10 पक्के वोट दे दिए जाते हैं, तो फिर एसपी उम्मीदवार जया बच्चन के खिलाफ क्रॉस वोटिंग का खतरा बढ़ जाएगा। एसपी के 47 विधायकों में से एक नितिन अग्रवाल पहले ही बीजेपी को वोट देने के संकेत दे चुके हैं।
राजनीतिक जाकारों की मानें तो ये राज्यसभा चुनाव एसपी-बीएसपी के संभावित गठबंधन के लिए परीक्षा सरीखे है। ऐसे में अगर एसपी की ओर से बीएसपी कैंडिडेट का समर्थन सुनिश्चित नहीं किया जाता है, तो ये मायावती के लिए चिंताजनक बात होगी और फिर इसका असर दोनों दलों के संभावित गठबंधन पर भी पड़ सकता है।

आपका एक लाइक बताएगा कि आपको यह खबर पसंद आई है, अगर खबर पसंद है तो लाइक जरुर करें?

Loading...
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/