Breaking News

अखिलेश यादव के बेहद खास MLC को पूर्वांचल के माफिया ने जान से मारने की धमकी

बाराबंकीः कोतवाली नगर के लखनऊ हाईवे किनारे पर स्थित भूमि विवाद के मामले में एक पक्ष की पैरवी के लिए पहुंचे पूर्वांचल के पूर्व सांसद धनंजय सिंह से मयूर विहार परिसर में जमीन को लेकर विवाद में सोमवार से तनाव के हालात बन हुए हैं. माफिया धनंजय के  पक्ष ने एक जमीन पर कब्जा करते हुए दीवार बनाई तो दूसरे पक्ष एमएलसी राजेश यादव के लोगों ने उसे गिरा दिया। हालात बेकाबू हो इससे पहले प्रशासन की ओर से एसडीएम सदर एसपी सिंह भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। प्रशासन ने दोनों पक्षों के 10 लोगों के खिलाफ शांतिभंग की कार्रवाई कर दी ,धनंजय की फ़ोन पर एमएलसी राजू से तक़रार के बाद राजू यादव के विधानपरिषद मे सवाल से प्रशासन समेत मयूर विहार बेचने और खरीदने वालो में  हड़कंप मच गया है। 

Loading...



मालूम हो मयूर विहार की ज़मीन से सटी हुई ग्राम समाज की  ज़मीन पर भू माफ़िआओ ने  अवैध रूप से बेच दिया था। जिस पर कब्ज़े को लेकर अब बवाल शुरू हो गए हैं.यहाँ 8000 SQFT  ज़मीन के टुकडे जिसको किसी कटैत ने एमएलसी राजेश यदव के परिवार के हाथ बेचा था.
एसडीएम ने बताया कि काफी दिनों से दो पक्षों में जमीन को लेकर वर्चस्व की लड़ाई सामने आई है। प्रशासन की ओर से की गई पैमाइश पर दोनों पक्ष मानने को तैयार नहीं है। इसलिए प्रशासन ने सख्ती से निपटने का फैसला किया है। दोनों पक्ष के 10 लोगों के खिलाफ शांतिभंग की कार्रवाई की गई है। यह भी कहा कि भूमि पर यथास्थिति बनाए रखने के आदेश दिए गए हैं।

मयूर विहार कॉलोनी निवासी भावना सिंह की कई इलाके में काफी भूमि है। इनमें रिसॉर्ट, होटल व प्लॉटिंग की गई है। भावना सिंह के देवर सुरेंद्र प्रताप सिंह मोनू ने बताया कि उनकी प्लॉटिंग की जमीन पर सपा के एमएलसी राजेश यादव के समर्थक कब्जा करना चाहते हैं। उनके समर्थक अंकुर यादव ने उन्हें 10 फरवरी को धमकी दी। इस पर उन्होंने पुलिस को तहरीर दी। यह भी आरोप लगाया कि सपा एमएलसी के नजदीकी लोगों ने एक प्लॉट आठ हजार वर्ग फीट की खरीदा था। इसके बाद दो स्थानों पर वह आठ-आठ हजार वर्ग फुट जमीन पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं। इधर, सपा एमएलसी राजेश यादव ने कहा कि उनके परिवार के लोगों ने आठ हजार वर्ग फुट जमीन खरीदी थी। उसके बगल में चालीस फुट का रास्ता था। उसको सोमवार की सुबह बंद कर दीवार खड़ी कर दी गई। इस पर उसे गिरा दिया गया। उन्होंने कहा कि सीधे तौर पर मामले से मेरा लेना देना नहीं है लेकिन अन्याय के खिलाफ हूं। उनकी मांग है कि वह आसपास की नजूल व ग्राम समाज की जमीन का खाली करवाएं। यह भी कहा कि वह मामले में विधानपरिषद के पटल पर भी  उठाया हैं । सवाल में कहा है –
क्या मुख़्यमंत्री बताएंगे क़ि जिला अधिकारी बाराबंकी द्वारा ग्राम सभा ओबरी तहसील नवाबगंज सदर मयुर विहार कॉलोनी की ज़मीन पर भु मफ़िआओ द्वारा अवैध कब्ज़ा को खाली कराने के संबंध में दिनांक 17 /12 /2017 को आदेश दिए गये थे ?
यदी हाँ तो उक्त आदेशो के संबंध में अब तक क्या कर्यवाही कि गई है ,कि गयी कारवाही संम्पूर्ण सदन की मेज़ पर रखेंगे ?
बाद में राजेश यादव ने टिप्पडी भी की है जनपद बाराबंकी  में ग्राम सभा कि भूमि पर भू माफिया द्वारा अतिक्रमण कर उसका दुरुपयोग किया जा रहा हैं प्रश्न जनहित का हैं। 
अब देखिये प्रशासन क्या करता है ये आगे आने वाला समय बतायेंगा।

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/