Breaking News

महाराष्ट्र की रैली में बोले ओवैसी- ’15 लाख नहीं तो 15 हजार ही दे दो मित्रों…!’




औरंगाबाद. ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख और हैदराबाद संसदीय सीट से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी-आरएसएस पर हमला किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के द्वारा तीन तलाक के खिलाफ प्रस्तावित बिल लाने पर ओवैसी ने कहा कि तीन तलाक के जरिए महिलाओं को न्याय दिलाना तो एक बहाना है, असली निशाना तो शरीयत है.ओवैसी महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे. ओवैसी ने मोदी को हर भारतीय के खाते में 15 लाख रुपये दिए जाने के कथित वादे की याद दिलाई और कहा कि आगामी बजट में तीन तलाक मिलने वाली महिलाओं को 15 हजार देने का प्रावधान किया जाना चाहिए. उन्होंने पीएम के अंदाज में चुटकी लेते हुए कहा कि 15 लाख नहीं तो 15 हजार ही दे दो मित्रों…!

Loading...
बता दें कि केंद्र सरकार ने मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक 2017 (तीन तलाक) के मुद्दे पर अपना रुख साफ करते हुए कहा है कि यह धर्म या विश्वास का मुद्दा नहीं, बल्कि लैंगिक समानता और लैंगिक न्याय का मुद्दा है.ओवैसी ने आगे कहा कि बीजेपी मुस्लिम मुक्त भारत चाहती है, जबकि राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) दलित मुक्त भारत चाहती है. उन्होंने दलितों और मुस्लिमों से अपील करते हुए कहा कि मुस्लिमों और दलित को अब जागना पड़ेगा. यहां ‘मीम’ और ‘भीम’ एका के अपने पुराने नारे को भी दोहराना ओवैसी नहीं भूले. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘मैं दलितों से भी कहना चाह रहा हूं कि आपका गरीब भाई आपके सामने खड़ा हुआ है.’ बता दें कि ओवैसी मीम का इस्तेमाल मुस्लिम, जबकि भीम का इस्तेमाल दलितों के लिए करते रहे हैं.
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/