Breaking News

अफसरों की गाड़ियों से उतरी पीली बत्ती, अब कचरा गाड़ियों में लगी

केंद्र सरकार के आदेश के बाद भले ही मंत्रियों, नेताओं और अफसरों ने लाल व पीली बत्ती का मोह छोड़ दिया हो, लेकिन छावनी परिषद का कॉम्पेक्टर (कचरा डंपर) पीली बत्ती लगाए कचरा उठाने में व्यस्त नजर आता है। पीली बत्ती लगा यह कचरा वाहन देख कुछ लोग तो तरह-तरह का मजाक बना रहे हैं, वहीं कुछ लोग इसे देख भ्रमित हो रहे हैं। वहीं अधिकारी इस मामले में जवाब देने से कतरा रहे हैं।
कचरा कॉम्पेक्टर पर लगी पीली बत्ती के विषय में जब कैंट अध्यक्ष ब्रिगेडियर वासुधेश आर्य से बात की गई तो उनका कहना था कि ऐसा कोई मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। यदि इस तरह पीली बत्ती लगाकर यह वाहन घूम रहा है तो गलत है। वहीं कैंट सीईओ ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि मैं फिलहाल छुट्टी पर हूं। इस विषय में आपको जो भी जानकारी लेनी है, वह ऑफिस से ले सकते हैं।
जब प्रावधान नहीं था, तब भी लगाते थे लाल बत्ती
लाल व पीली बत्तियां जिस वक्त चलन में थी उस समय भी सिर्फ छावनी परिषद के अध्यक्ष की गाड़ी पर ही लाल बत्ती लगती थी। यहां तक कि कैंट सीईओ के वाहन पर भी किसी प्रकार की कोई बत्ती लगाने का प्रावधान नहीं था, हालांकि यह बात अलग है कि उस वक्त भी कैंट सीईओ अपनी गाड़ी पर लाल बत्ती लगाकर रूतबा कायम रखते थे। केंद्र के आदेश पर जब वीआईपी कल्चर खत्म करने बड़े-बड़े मंत्री, अधिकारियों ने बत्ती उतारी, तब सीईओ को भी मजबूरी में यह बत्ती उतरवानी पड़ी। अब कचरा कॉम्पेक्टर में यह पीली बत्ती किसने लगवाई इस बारे में कोई मुंह खोलने को तैयार नहीं है।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/