Breaking News

प्रेमी की कर दी हत्या फिर छोटी बहन के गर्लफ्रेंड संग मिल किया दूसरा अपराध

तिहाड़ गांव में कहासुनी के दौरान प्रेमिका ने इलेक्ट्रॉनिक सामान बनाने वाली एक नामी कंपनी के इंजीनियर की ताबड़तोड़ चाकू मारकर हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने अपनी छोटी बहन के दोस्त के साथ मिलकर शव को 20 किलोमीटर दूर ले जाकर अमन विहार इलाके में फेंक दिया था। पुलिस ने दोनों आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है।
11 जनवरी की सुबह रोहिणी सेक्टर 22 में निठारी गांव की ओर जाने वाली सड़क के किनारे खाली प्लॉट में एक अधेड़ का शव मिला था। शव बोरी व कंबलों में लिपटा हुआ था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए संजय गांधी अस्पताल में रखवा दिया था।
अमन विहार थाना पुलिस मृतक की पहचान की कोशिश में जुटी थी। इसी बीच शनिवार को एसआइ पीएल मीना को पता चला कि दिल्ली कैट थाने में 11 जनवरी को दिनेश कुमार शर्मा (59) नाम के शख्स की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। वह 10 जनवरी को दफ्तर गए थे, लेकिन वापस घर नहीं लौटे थे।
सूचना के आधार पर दिनेश के परिजनो से संपर्क किया गया और उन्हें शव दिखाया गया तो उन्होने मृतक की पहचान कर ली।
दिनेश अपने परिवार के साथ तिलक नगर इलाके के अजय एंक्लेव में रहते थे और दिल्ली कैट स्थित कंपनी में बतौर इंजीनियर नियुक्त थे।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जांच के क्रम में पता चला कि दिनेश के तिहाड़ जेल में रहने वाली मीना (33) नाम की महिला से संबंध थे। मीना नौ साल पहले दिनेश के यहां घरेलू सहायिका के रूप में काम करती थी। इसी दौरान दोनों के संबंध बन गए थे। बाद में मीना ने काम छोड़ दिया था।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जांच में पता चला कि दोनों तब से एक-दूसरे से लगातार मिलते-जुलते थे। मृतक के परिजनों ने भी मीना पर हत्या का शक जताया था। इसके बाद अमन विहार थाने के एसएचओ हरेंद्र सिंह के नेतृत्व में टीम ने तिहाड़ गांव में छापेमारी कर मीना को दबोच लिया गया।
साथ रखने को लेकर हुई थी कहासुनी
पूछताछ में मीना ने बताया कि दिनेश अगले साल नौकरी से रिटायर्ड होने वाले थे। ऐसे में वह चाहती थी कि अब दिनेश अपने परिवार को छोड़कर उसके साथ रहें। 10 जनवरी की रात इसी बात को लेकर दिनेश को घर बुलाया था। दोनों के बीच कहासुनी होने लगी, जिसके चलते उसने गुस्से में आकर दिनेश पर चाकुओं से कई वार कर हत्या कर दी।
हत्या के बाद उसने बहन के प्रेमी जोगिंदर को बुलाया और दोनो ने शव को बोरी में बंद कर अल्टो कार से रोहिणी सेक्टर 22 में लाकर फेंक दिया। पुलिस ने वारदात में शामिल चाकू व मीना की कार बरामद कर ली है। इंजीनियर जिस स्कूटी से मीना के घर गए थे, उसे भी बरामद कर लिया गया है।
पुलिस ने रविवार को दोनों आरोपियों को रोहिणी कोर्ट के ड्यूटी महानगर दंडाधिकारी की अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/