Breaking News

कांडोम का ज्यादा इस्तेमाल खराब कर सकता है आपकी सेक्स लाईफ

नई दिल्ली। मौजूदा समय में भारत में भी लोग सेक्स को लेकर काफी जागरूक हो गए है। लोगों की सोच में एक बड़ा फर्क आया है। पहले लोग जहां सेक्स संबंधित नाम लेने में हिचकिचाते थे, वहीं लोग अब इन सब बतों पर खुलकर बात करने लगे है। कांडोम के इस्तेमाल में भी लोग अब नही हिचकिचाते है पहले मेडिकल स्टोर पर इसका नाम तक लेनें में लोगों को हिचकी आ जाती थी। लेकिन यह बात जानकर आपको हैरानी होगी कि कांडोम जितना आपको सुरक्षित रखता है यह उतना ही आपके लिए खतरनाक भी साबित हो सकता है।

यह बात बिल्कुल सही है कि सेक्स के समय कंडोम का उपयोग करना बहुत जरुरी है। इसके इस्तेमाल से कई तरह की बिमारियों  खासकर गर्भधारण से बचा जा सकता है। लेकिन जहां फायदे है वहां नुकशान होना भी स्वाभाविक है। कंडोम न केवल आपकी सेक्स लाइफ को प्रभावित कर सकते हैं बल्कि आपको यौन संबंधित बीमारियों का भी शिकार बना सकते हैं।

Loading...
सप्ताह में दो से अधिक बार कंडोम का उपयोग करने से योनि की आंतरिक परत और झिली में संवेदनशीलता कम या समाप्त हो जाती है। जिसके कारण स्त्रियों की यौनि से स्खलित होने वाले प्राकृतिक लुब्रिकेंट (चिकनाई युक्त) का स्वत: स्खलन कम हो जाता है जिसके चलते योनि में खरास या सूखापन आता देखा गया है।
कंडोम का अधिक उपयोग करने से योनि ग्रीवा में कटाव और छिलन के साथ-साथ दर्दनाक घाव भी हो जाते हैं। जिसे स्त्रियां असमय मासिक चक्र का आना मानकर उसकी परवाह नहीं करती हैं और जननांगों और गर्भाशय में भयंकर संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है।
लेटेक्स के बने कंडोम ऐलर्जी का सबसे आम कारण हैं और सेक्स के दौरान स्त्री की प्रतिक्रिया को घटा देते हैं, क्योंकि इसके प्रयोग के कारण योनि में सूखापन और खुजली के रूप में देखा गया है।
सप्ताह में दो बार से अधिक कंडोम का उपयोग किया जाता है तो कंडोम योनि की प्रतिरक्षा प्रणाली को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके उपयोग से योनि की अम्लीय वातावरण में उथल-पुथल पैदा हो जाती है।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/