Breaking News

ठंड के कारण यूपी में 15 जनवरी तक बंद रहेंगे स्कूल

उत्तरप्रदेश में कोहरे की कहर जारी है। लखनऊ, बाराबंकी ,फैजाबाद ,अमेठी , आगरा, मुरादाबाद, बरेली, आजमगढ़ आदि में सर्दी का सितम बरकरार है। बुधवार सुबह 11 बजे तक मुरादाबाद समेत रामपुर, अमरोहा, संभल कोहरे की चादर में लिपटे हुए हैं। मुरादाबाद और रामपुर में ठंड और कोहरे को देखते हुए डीएम ने आठवीं तक के स्कूल 13 जनवरी तक बंद कर दिए हैं। 14 को मकर संक्रांति और 15 को रविवार का अवकाश है।
सिर्फ मुरादाबाद नहीं बल्कि यूपी के कई जिलों के स्कूलों में बच्चों को 14 जनवरी तक छुट्टी दी गई है। ठंडी हवाओं को देखते हुए स्कूलों को 14 जनवरी तक बंद रखने का आदेश दिया गया है।
मुरादाबाद मंडल में ठंड के मामले में दिन और रात के तापमान कमोबेश एक जैसे हो हैं। पिछले 48 घंटे के दौरान औसत तापमान महज आठ डिग्री रहने से कड़ाके की ठंड का प्रकोप बढ़ गया। रात का न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह पिछले दिन के मुकाबले थोड़ा चढ़ा, लेकिन इक्कीस घंटे तक तापमान औसतन आठ के आसपास ही रहने से लोग भारी ठंड के चलते बेहाल हो उठे।
मंगलवार को बर्फीली हवाओं के साथ आधे दिन तक कोहरा छाया रहा तो बुधवार को सवेरे घने कोहरे के बीच बर्फीली हवाओं ने गलन और बढ़ा दी।
शहर दिन में 11 बजे तक पूरी तरह से कोहरे की चादर में लिपटा हुआ है। बाजारों में सन्नाटा है। रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन पर यात्री साधन न होने के कारण पूरी रात ठिठुरते रहे। जिलाधिकारी के निर्देश पर मुरादाबाद और रामपुर में जिला विद्यालय निरीक्षकों ने शीतलहर एवं अत्यधिक ठण्ड को देखते हुए कक्षा 8 वीं तक के सभी छात्र/छात्राओं का अवकाश 11 जनवरी से 13 जनवरी तक घोषित कर दिया है। वार्षिक गृह परीक्षा एवं बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षा के दृष्टिगत शेष सभी कक्षाएं / परीक्षाएं निर्धारित रूप से होंगी।
धूप संग ठंड के पारे का बना नया रिकार्ड
इस बार ठंड के मौसम का पारा रोजाना नए रिकार्ड बनाने पर आमादा दिख रहा है। मंगलवार को मध्यान्ह धूप निकलने के बावजूद अधिकतम पारा 13.4 तक ठहर गया। जीआईसी स्थित मौसम वेधशाला के प्रभारी निसार अहमद अंसारी ने धूप निकली होते हुए इस तापमान को सीजन का अब तक का सबसे कम तापमान बताया। सोमवार को धूप निकलने के साथ अधिकतम तापमान 14.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। मंगलवार को दिन का अधिकतम तापमान एक डिग्री और घट गया।
उधर, धूप होते हुए भी गलन के चलते लोगों को राहत महसूस नहीं हो सकी। डॉक्टरों ने सलाह दी कि धूप निकली होते हुए भी ठंड ज्यादा होने की स्थिति में बीमार और बुजुर्ग लोग बंद कमरे में ही रहें तो अच्छा है। अधिकतम तापमान 20 डिग्री और इससे अधिक होने पर ही धूप निकलने की स्थिति में राहत मिल सकती है।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/