Breaking News

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छोड़ आतंकी संगठन में शामिल हुआ पीएचडी का छात्र






अलीगढ़। कहते हैं पढ़ा-लिखा आदमी समझदार होता है। उसे अपने भले-बुरे के बारे में अच्छी तरह से मालूम होता है। वो अपनी पढ़ाई का इस्तेमाल खुद की व देश, समाज की भलाई के लिए करता है। ऐसे में अगर पीएचड़ी करने वाला रिसर्च स्कालर स्टूड़ेंट आतंकवादी बन जाए, तो देश के हालातों व शिक्षा-प्रणाली के बारे में गंभीरता से विचार करने का वक्त आ गया है।

जियोलॉजी से पीएचडी कर रहा था छात्र

Loading...
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से जियोलॉजी सब्जेक्ट में पीएचडी करने वाले 26 साल के मुनान बशीर वानी के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। वानी कश्मीर के कुपवाडा जिले के लोलाब का रहने वाला है। हाल ही में सोशल मीडिया पर वानी की एक तस्वीर वायरल होने से हंगामा मच गया। तस्वीर में वानी ने हाथ में एके47 पकड रखी है, उनका हुलिया आतंकवादियो जैसा लग रहा है। जिसे देखकर आशंका जताई जा रही है वानी ने आतंकवादी संगटन हिजबुल मुजाहिद्दीन ज्वाइन कर लिया है।
पुलिस ने नही लगाई वानी के आतंकवादी होने पर मोहर

पुलिस के अनुसार वानी की जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई है वो फोटोशॉप भी हो सकती है। ऐसे में इस बात की पुष्टि नही की जा सकती कि वानी ने आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ज्वाइन किया है या नही। पुलिस ने कहा कि छात्र तीन जनवरी से लापता है। जिसके चलते उसके घरवालों ने रविवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस जांच में छात्र की आखिरी लोकेशन दिल्ली पायी गई है।
पांच साल से यूनिवर्सिटी में ही है छात्र
मीडिया रिपोर्टस के अनुसार रिसर्च स्कॉलर छात्र वानी पिछले पांच सालों से अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में ही है। पीएचडी से पहले उसने एमफिल की डिग्री भी इसी यूनिवर्सिटी से हासिल की है। वानी पढ़ाई में कॉफी ध्यान देता था। पिछले दिनों कश्मीर में आई बाढ़ के बाद जीआईएस तकनीक और रिमोट सेंसिंग को लेकर वानी ने अपनी रिपोर्ट सबमिट की थी, जिसके लिए उन्‍हें पुरस्‍कार भी मिला था।
कश्मीरी युवकों का बढ़ रहा है आतंकवादी संगठनों की तरफ रुझान
इससे पहले भी कश्मीर के एक कॉलेज छात्र और फुटबॉल खिलाड़ी माजिद अरशिद खान ने भी इसी तरह आतंकी संगठन ज्वाइन कर लिया था। माजिद खूंखार आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के साथ जुड़ा था। हालांकि, अपनी मां की अपील के बाद माजिद ने आतंकी संगठन को छोड़ दिया और घर वापस आ गए था।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/