Tuesday , July 16 2024

पूर्व आतंकी हत्या मामले में पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश कर रहा आरोपी पुलिस फायरिंग में हुआ घायल

आरोपी सिमरनजीत उर्फ बबलू बब्बर खालसा इंटरनेशनल का है सदस्य, पुलिस आरोपी को हथियार की बरामदगी करवाने ले जा रही थी

खबर खास, चंडीगढ़/जालंधर :

काउंटर इंटेलिजेंस यनि सीआई जालंधर की ओर से बड़ी कार्रवाई करते हुए बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) के सदस्य सिमरनजीत सिंह उर्फ बबलू, जोकि पूर्व आतंकवादी रतनदीप सिंह हत्या मामले में मुख्य हमलावार है, ने गिरफ्तारी से कुछ घंटे के भीतर पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश में पुलिस की गोलियों से घायल हो गया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पूर्व आतंकी रतनदीप सिंह की एसबीएस नगर में दो बाइक सवार हमलावरों ने तीन अप्रैल 2024 को गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस बारे में डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के कुछ ही घंटे बाद ही जब काउंटर इंटेलिजेंस जालंधर की टीम आरोपी सिमरनजीत बबलू को उसके खुलासे के मुताबिक बताए गए स्थान पर रतनदीप हत्याकांड में इस्तेमाल की गई पिस्तौल बरामद करने ले जा रही थी, तब उसने पुलिस पर हमला कर दिया और भागने की कोशिश की।

डीजीपी ने कहा कि आरोपी को रोकने के लिए पुलिस टीमों को फायरिंग करनी पड़ी तो आरोपी घायल हो गया और उसका नजदीकी अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस टीमों ने आरोपियों के पास से 2 आधुनिक हथियार- एक .32 वेब्ले रिवॉल्वर और एक .32 पिस्तौल के साथ एक मैगजीन और 19 जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं।

डीजीपी गौरव यादव ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि गिरफ्तार आरोपी सिमरनजीत बबलू पाकिस्तान स्थित आतंकवादी हरविंदर रिंदा और अमेरिका स्थित गोपी नवांशहर के निर्देशों पर काम कर रहा था और उनके कहने पर ही अपने दूसरे साथी हमलावर, जिसकी पहचान जसप्रीत सिंह उर्फ जस्सी कुलाम के रूप में हुई है, ने समाज में दहशत फैलाने के लिए पूर्व उग्रवादी रतनदीप सिंह की टारगेट कर हत्या की थी। जानकारी के मुताबिक आरोपी जस्सी कुलाम वारदात को अंजाम देने के बाद विदेश भागने में कामयाब हो गया था। उन्होंने कहा कि पुलिस ने आर्म्स एक्ट और आपराधिक साजिश की धाराओं को शामिल किया हैं और मामले में अगले-पिछले संबंध स्थापित करने के लिए आगे की जांच जारी है।

वहीं, एआईजी काउंटर-इंटेलिजेंस नवजोत सिंह माहल ने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर सीआई जालंधर की पुलिस टीमों ने देयोल नगर कॉलोनी, जालंधर के इलाके में एक विशेष चौकी स्थापित की और आरोपी सिमरनजीत सिंह उर्फ बबलू को पकड़ने में सफलता हासिल की। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी एक दुर्दांत अपराधी है और उसके खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास और आर्म्स एक्ट से संबंधित कई मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि आरोपी बबलू अमृतसर पुलिस के एक एएसआई की हत्या में भी शामिल है।

इस संबंध में एफआईआर नं. 39 तिथि 07.07.2024 को पुलिस स्टेशन स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल अमृतसर में आर्म्स एक्ट की धारा 25, और भारतीय न्यायिक संहिता की धारा 61(2) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

The post पूर्व आतंकी हत्या मामले में पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश कर रहा आरोपी पुलिस फायरिंग में हुआ घायल first appeared on Khabar Khaas.