Tuesday , July 16 2024

केंद्रीय एजेंसी, पंजाब पुलिस ने संयुक्त रूप से किया यूएसए बेस्ड सरवन सिंह द्वारा संचालित नार्को संगठित अपराध का भंडाफोड़

6 पिस्तौल, 200 ग्राम हेरोइन सहित तीन काबू

खबर खास, चंडीगढ़/ अमृतसर :

सीएम भगवंत मान के दिशा निर्देशों के मुताबिक अमृतसर देहात पुलिस ने केंद्रीय एजेंसियों से तालमेल करते हुए अजनाला से तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर अमेरिका स्थित तस्कर सरवन सिंह उर्फ भोजा हवेलियों की छत्रछाया में पनप रहे नारकोटिक्स और संगठित अपराध के गठजोड़ का पर्दाफाश किया है।

इस बात की जानकारी देते हुए डीजीपी पंजाब गौरव यादव ने शनिवार को बताया कि पकड़े गए लोगों की पहचान तरनतारन के ख्रालड़ा निवासी करनजीत सिंह, अमृतसर के राजासांसी निवासी आकाश सेठ उर्फ रघू और सुखदीप सिंह के तौर पर हुई है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से छह पिस्तौलें जिनमें से पाँच 30 बोर स्टार पिस्तौल और एक 9 एमएम सहित छह जिंदा कारतूस और 10 मैगज़ीन, 200 ग्राम हेरोइन और एक वज़न तोलने वाली इलेक्ट्रानिक मशीन भी बरामद की है।

गौरतलब है कि भोला हवेलियाँ, जिसकी गिरफ़्तारी पर 2 लाख रुपए का इनाम था, कथित नशा तस्कर रणजीत उर्फ चीता का भाई है और 532 किलो हेरोइन के मामलो में अपेक्षित था, जिसके सम्बन्ध में उसको मई 2020 में गिरफ़्तार किया गया था। रणजीत चीता जुलाई 2019 में आईसीपी अटारी में कस्टम विभाग द्वारा ज़ब्त की गई हेरोइन के 532 पैकेट की तस्करी केस में मास्टरमाईंड था, जिस केस की जांच एनआईए द्वारा की जा रही है।

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि पुख़्ता सूचना मिली थी कि सरवण सिंह के साथियों ने हथियारों की खेप बरामद की है और वह इस खेप को किसी और को सौंपने जा रहा है। जिस पर तुरंत कार्यवाही करते सीआईए स्टाफ की पुलिस टीमों ने अजनाला के अधिकार क्षेत्र में विशेष पुलिस चैकिंग की और तीनों मुलजिमों को 6 पिस्तौल, 10 मैगज़ीन सहित गिरफ़्तार किया।

उन्होंने बताया कि बाद में आकाश उर्फ रघू के खुलासे पर पुलिस टीमों ने उसके बताए टिकाने से 200 ग्राम हेरोइन, छह जिंदा कारतूस और वज़न तोलने वाली एक इलैक्ट्रानिक मशीन भी बरामद की है।

डीजीपी ने बताया कि प्राथमिक जांच से पता लगा है कि दोषी व्यक्ति सीधे तौर पर अमरीका स्थित तस्कर सरवन सिंह के संपर्क में था और हथियार और हेरोइन की स्पलाई कर रहा था। उन्होंने कहा कि इस मामलो में अगले-पिछले संबंधों को स्थापित करने के लिए और जांच जारी है।
अन्य विवरनों को सांझा करते हुए, एसएसपी अमृतसर देहाती सतीन्द्र सिंह ने बताया कि जांच में यह भी सामने आया है कि आकाश उर्फ रघू के चचेरे भाई संयम उर्फ मैथी निवासी अजनाला- जोकि मौजूदा समय में अमृतसर जेल में बंद है, ने उसकी भोला हवेलियों के साथ जान- पहचान करवाई थी। उन्होंने कहा, ‘‘ हम संयम को और पूछताछ के लिए प्रोडक्शन वारंट पर लाएंगे’ ’। उन्होंने कहा कि पुलिस टीमें सभी गठजोड का पर्दाफाश करने के लिए मुलजिमों के वित्तीय ट्रेलों का पता लगा रही है और इस मामलो में और गिरफ़्तारियों की उम्मीद है।

इस सम्बन्ध में एफआईआर नं. 122 तारीख़ 22- 6 2024 को हथियार एक्ट की धारा 25 अधीन केस दर्ज किया गया है और थाना अजनाला में दर्ज बाद में इस एफ. आई. आर. में एनडीपीएस की धारा 21 और 29 भी लगाई गई है।

The post केंद्रीय एजेंसी, पंजाब पुलिस ने संयुक्त रूप से किया यूएसए बेस्ड सरवन सिंह द्वारा संचालित नार्को संगठित अपराध का भंडाफोड़ first appeared on Khabar Khaas.