Friday , July 19 2024

‘नशा तस्करों की गिरफ्तारी के एक हफ्ते के भीतर हो उनकी जायदाद जब्त’

सीएम मान ने पुलिस अधिकारियों को दिया आदेश, नशा तस्करों पर नकेल कसने के लिए पंजाब पुलिस में 10 हज़ार अन्य पद सृजित करने का ऐलान

कहा, थानों में आम जनता की अनावश्यक परेशानी के लिए एसएसपी को बनाया जाएगा जवाबदेह

खबर खास, चंडीगढ़ :

पंजाब में नशे के खतरे से निपटने की राज्य सरकार की वचनबद्धता दोहराते हुए मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान ने कहा कि राज्य में इस श्राप के ख़ात्मे के लिए पंजाब सरकार ने बहु-पक्षीय रणनीति बनायी है। यहां आज पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से बैठक की अध्यक्षता करते हुुए सीएम ने कहा कि पंजाब सरकार राज्य की पुलिसिंग में कई सुधार लाने जा रही है। मुख्यमंत्री ने साफ किया कि यदि कोई नशा स्मगलिंग में शामिल पाया गया तो उसकी जायदाद एक सप्ताह के भीतर जब्त की जाएगी। उन्होंने कहा कि मतदान की तैयारियों दौरान पंजाब पुलिस ने बहुत बड़ी मात्रा में नकदी और नशा पकड़ा है साथ ही नशें की आपूर्ति के बारे में अहम जानकारियां जुटाई है। उन्होंने कहा कि यह ध्यान में आया है कि कई निचले स्तर के पुलिस मुलाजिमों की नशा तस्करों के साथ मिलीभगत है। उन्होंने कहा कि इसके चलते पहलकदमी करते हुए प्रदेश सरकार ने प्रदेश में सबसे निचले स्तर पर आते और एक ही स्थान पर लंबे समय से तैनात पुलिस कर्मचारियों की बड़े स्तर पर बदलियां की है। उन्होंने कहा कि अलग-अलग डिवीजनों में तैनात 10 हजार से अधिक पुलिस कर्मचारियों के तबादले किए गए हैं और तैनातियों में रोटेशन प्रक्रिया चल रह है। उन्होंने कहा कि नशा तस्करी में निचले स्तर पर कई पुलिस अधिकािरियों की संलिप्ता की रिपोर्ट को देखते हुए पुलिस विभाग इन काली भेड़ों की शिनाख्त कर उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने साफ किया कि यदि कोई नशा स्मगलिंग में शामिल पाया गया तो उसकी जायदाद एक सप्ताह के भीतर जब्त की जाएगी। उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस की कार्यकुशलता बढ़ाने के लिए फोर्स में 10 हज़ार नए पद सृजित करने का फ़ैसला किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों को नशें विरुद्ध जंग को राज्य़ की भलाई के लिए जन आंदोलन में बदलने के लिए कहा गया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अब वह दिन चले गए, जब राज्य सरकार ‘ कमीशन’ पर चलती थी। अब तो सरकार ‘ मिशन’ की तरह चल रही है। इसी तरह राज्य में समगलिंग के लिए ड्रोन का प्रयोग करने वाले समगलरों, गैंगस्टरों और आतंकवादियों के साथ निपटने के लिए विस्तृत रणनीति बनाई गई है।

मुख्य मंत्री ने कहा कि पंजाब नशें विरुद्ध देश की लड़ाई लड़ रहा है और इस कार्य के लिए कोई कमी बाकी नहीं छोड़ी जायेगी। मान ने कहा कि पंजाब में नशा पैदा नहीं होता, बल्कि अन्य राज्य और सरहद पार से नशा स्मगल किया जाता है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों को थानों में रोज़ाना के कामकाज के लिए आने वाले लोगों के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार अपनाने के लिए कहा है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि थानें में आने वाले आम लोगों की अनावश्यक परेशानी के लिए सम्बन्धित ज़िलो के एस.एस.पीज को जवाबदेह बनाया जायेगा।

मुख्य मंत्री ने कहा कि पुलिस अधिकारियों को विधायकों और अन्य चुने हुए प्रतिनिधियों को उचित मान- सम्मान देने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि सूबा सरकार ने पहले ही भ्रष्टाचार और नशें के खिलाफ जीरो टालरैंस की रणनीति अपनाई है और इस कार्य में कोई कोताही बरदाश्त नहीं की जायेगी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इन घृणित अपराधों में चाहे कोई भी शामिल क्यों न हो, उसे बख़्शा नहीं जायेगा।

मुख्य मंत्री ने कहा कि सत्ता में हिस्सेदार न बनने कारण भाजपा के सूबा प्रधान सुनील जाखड़ निराश हैं। उन्होंने कहा कि इसी निराशा कारण पूर्व संसद सदस्य की तरफ से सूबा सरकार ख़िलाफ़ बेबुनियाद बयान जारी किये जा रहे हैं। मुख्य मंत्री ने अफ़सोस व्यक्त किया कि लंबे समय तक चुनाव आचार संहिता विवरण लागू होने के कारण राज्य में विकास कामों में रुकावट आई। उन्होंनो कहा कि प्रदेश के सम्रग विकास और लोगों की ख़ुशहाली के लिए सूबा सरकार वचनबद्ध है और लोगों की भलाई के लिए सूबा सरकार फिर से सक्रिय है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि ज़मीनी स्तर से लोगों से सुझाव ले कर सूबा सरकार, लोगों की भलाई के लिए अलग- अलग रणनीतियां बना रही है।

The post ‘नशा तस्करों की गिरफ्तारी के एक हफ्ते के भीतर हो उनकी जायदाद जब्त’ first appeared on Khabar Khaas.