Saturday , June 22 2024

कैथल की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण, यह भाजपा की नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति का नतीजा है : आप

पंजाब हमारे देश का अन्न भंडार है, पंजाबी हमारी सीमाओं की रक्षा करते हैं, उनके खिलाफ नफरत फैलाना दुखद : संदीप पाठक

भारत ने भाजपा की नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति को नकार दिया है, लेकिन ऐसा लगता है कि भाजपा नेताओं ने इससे कुछ नहीं सीखा: आप नेता

खबर खास, चंडीगढ़ :

आम आदमी पार्टी (आप) ने कैथल की घटना की कड़ी निंदा की, जहां एक सिख व्यक्ति के साथ नफरत भरी घटना हुई। आप के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य डॉ. संदीप पाठक ने इसे भाजपा की नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति का नतीजा बताया। पाठक ने भाजपा नेता कंगना रनौत की पंजाब के खिलाफ की गई टिप्पणियों की आलोचना की और कहा कि कंगना रनौत की टिप्पणियां गैरजिम्मेदाराना और बेहद आपत्तिजनक हैं।

मंगलवार को पार्टी कार्यालय से जारी बयान में आप नेता ने कहा कि पंजाब हमारे देश का अन्न भंडार है। पंजाबी हमारी सीमाओं की रक्षा करते हैं, इसलिए इस राज्य के बारे में इस तरह की टिप्पणी निंदनीय है। डॉ. पाठक ने कहा कि पंजाबी बहुत मेहनती और देशभक्त लोग हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर जो कुछ भी हुआ, उसकी जांच की जा रही है, लेकिन भाजपा नेता द्वारा पंजाब और पंजाबियों के खिलाफ इस तरह की टिप्पणी दुखद है।

डॉ. पाठक ने आगे कहा कि यह भाजपा की राजनीतिक शैली है। वे नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति करते हैं। अभी पूरे देश ने उनकी राजनीति को नकार दिया है, लेकिन ऐसा लगता है कि भाजपा नेताओं ने इससे कुछ नहीं सीखा है। उन्होंने कहा कि भाजपा और उसके नेताओं को इस तरह की बयानबाजी से बचना चाहिए। देश सबसे पहले आता है और यह हर भारतीय का है। उन्होंने कहा कि कंगना रनौत अब जनप्रतिनिधि हैं। उन्हें अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए और बिना सोचे-समझे बयान नहीं देने चाहिए।

लोकसभा चुनावों के बारे में डॉ. पाठक ने कहा कि पंजाब की मान सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है और पंजाब के लोगों में उनकी काफी स्वीकार्यता है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लोकसभा चुनाव में सबसे ज़्यादा मेहनत की है। हमने पिछले आम चुनाव से बेहतर प्रदर्शन किया है जो हमारे लिए काफ़ी उत्साहजनक है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव अलग होते हैं। विधानसभा चुनाव से इसके नतीजे हमेशा अलग होते हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का उद्देश्य स्कूल, अस्पताल और सुशासन की राजनीति को बढ़ावा देना है और हम इसके लिए सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं।