Saturday , June 15 2024

Updated : पंजाब पुलिस ने बीएसएफ के साथ संयुक्त ऑपरेशन में सात नशा तस्करों को किया गिरफ्तार

आरोपियों के पास से 5.47 किलोग्राम हेरोइन, 1.07 लाख रुपए की ड्रग मनी बरामद; 40 जिंदा कारतूस, वरना कार, तीन मोटरसाईकल भी किए बरामद

ज्यादातर आरोपी छात्र और फौज में भर्ती होने की कर रहे थे तैयारी : डीजीपी यादव

खबर खास, चंडीगढ़/फाजिल्का :

सीमापार से नशीले पदार्थों की तस्करी करने वाले नेटवर्क के खिलाफ पंजाब पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। फाजिल्का पुलिस ने सीमा सुरक्षा बल के साथ एक संयुक्त ऑपरेशन में अंतरराष्ट्रीय नार्को तस्करी माड्यूल के सात नशा तस्करों को 5.47 किलोग्राम शुद्ध हेरोइन और 1.07 लाख रुपए की ड्रग मनी सहित गिरफ़्तार करके इस मड्यूल का पर्दाफाश किया है। यह जानकारी आज यहां डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव ने दी।

गिरफ़्तार किये गए व्यक्तियों की पहचान फाजिल्बका के गांव पिरे के उतर निवासी बलजिंदर सिंह उर्फ लवली (21), सुखचैन सिंह उर्फ लक्की (19) और सोलव सिंह (19), फाजिल्का के ही गांव चक्क सवाह वाला निवासी गुरचरन सिंह उर्फ मिलखा (21), गांव बादल निवासी करनदीप सिंह (29), महातम नगर निवासी दलजीत सिंह उर्फ मानी (23) और कपूरथला के गांव कोट गोबिंदपुरा निवासी कमलदीप सिंह (32) के तौर पर हुई है।

आरोपी कमलदीप सिंह की आपराधिक पृष्टभूमि है और वह पहले भी कपूरथला में एनडीपीऐस एक्ट के दो मामलों में शामिल है। हेरोइन और ड्रग मनी की बरामदगी के इलावा पुलिस टीमों ने इनके कब्ज़े में से 40 जिंदा कारतूस, छह मोबाइल फ़ोन, 8.4 ग्राम सोना और 68.97 ग्राम चांदी बरामद करने के इलावा उनकी हुंडई वर्ना कार ( एचआर 06 वाइ 8681) और तीन मोटरसाईकल भी ज़ब्त किये हैं।

डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि प्राथमिक जांच में सामने आया है कि अधिकतर आरोपी किशोर उम्र के छात्र हैं और फौज में भर्ती की तैयारी के दौरान उनकी जानपहचान कपूरथला आधारित नशा तस्कर कमलदीप सिंह से हुई। उन्होंने सीमा पार से हेरोइन की तस्करी शुरू कर दी। उन्होंने आगे बताया कि गिरफ़्तार किये गए आरोपी पाकिस्तान आधारित तस्कर के संपर्क में थे और ड्रोन के द्वारा नशीले पदार्थों की खेप प्राप्त करते थे।

उन्होंने कहा कि उनके अगले-पिछले संबंधों का पता लगाने और पाकिस्तान आधारित नशा तस्कर की पहचान करने के लिए जांच जारी है। इस कार्यवाही से संबंधित विवरण सांझा करते हुए सीनियर पुलिस कप्तान (एसएसपी) डा. प्रग्या जैन ने बताया कि पुलिस टीमों को भरोसेयोग्य सूत्रों से सूचना मिली थी कि मुलजिम बलजिंदर सिंह, सुखचैन सिंह, सोलव सिंह, गुरचरन सिंह, करनदीप सिंह और कमलदीप सिंह ने पाकिस्तान से नशीले पदार्थों की खेप प्राप्त की है और मुलजिम बलजिंदर के घर छुपा कर रखी है।

उन्होंने बताया कि सूचना के आधार पर तुरंत कार्यवाही करते हुए थाना अमीर ख़ास की टीमों ने मौके पर छापेमारी की और सभी मुलजिमों को उस समय काबू किया जब वह अपनी वर्ना कार में घर से जाने वाले थे और उनके कब्ज़े में से नशीले पदार्थों की खेप, जिंदा कारतूस और ड्रग मनी बरामद की। उन्होंने बताया कि बाद में पुलिस टीमों ने मुलजिम दलजीत सिंह को भी गिरफ़्तार कर लिया।

एसएसपी ने बताया कि मुलजिमों में से ज़्यादातर पहली बार आपराधिक गतिविधियों में शामिल हुए थे और पिछले चार महीनों से नशा तस्करी के इस धंधे में लगे हुए थे। उन्होंने आगे कहा कि इस संबंधित आगे जांच जारी है। इस संबंधी एफआईआर नं. 23 तारीख़ 23/ 05/ 2024 को फाजिल्का के थाना अमीर ख़ास में एनडीपीएस एक्ट की धारा 21, 23 और 29 और हथियार एक्ट की धारा 25 के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। ज़िक्रयोग्य है कि फाजिल्का पुलिस ने 16 मार्च 2024 को आदर्श चुनाव संहिता लागू होने से लेकर अब तक 22.57 किलोग्राम हेरोइन बरामद की है।