Tuesday , June 18 2024

विजिलेंस ने 50 हजार रुपए रिश्वत मांगने वाले नायब तहसीलदार के रीडर के खिलाफ मामला किया दर्ज, आरोपी फरार

खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने राज्य में भ्रष्टाचार के विरुद्ध चल रही मुहिम के दौरान ज़िला फरीदकोट की तहसील जैतो के नायब तहसीलदार के रीडर राकेश कुमार के विरुद्ध 50,000 रुपए रिश्वत मांगने के दोष अधीन भ्रष्टाचार का केस दर्ज किया है।
इस बारे में विजिलेंस प्रवक्ता ने बताया कि उक्त कर्मचारी के खि़लाफ़ यह मुकदमा मुख्यमंत्री की भ्रष्टाचार विरोधी एक्शन लाईन पोर्टल पर गाँव मत्ता, तहसील जैतो के निवासी सुखदेव सिंह की तरफ से दर्ज करवाई गई आनलाइन शिकायत के आधार पर दर्ज किया गया है।
उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में कहा है कि उसने अपनी ज़मीन के इंतकाल के लिए जैतो के नायब तहसीलदार को एक साल पहले आवेदन दे दिया था, जो कि अभी तक लंबित है। इसके बारे जब वह उक्त राजस्व अधिकारी को मिला तो उसने शिकायतकर्ता की ज़मीन का मौका देखने की ख़ातिर तारीख़ लेने के लिए अपने रीडर के साथ संपर्क करने के लिए कहा। शिकायतकर्ता ने आगे आरोप लगाया कि जब उसने राकेश कुमार के साथ संपर्क तो उसने उसकी ज़मीन का दौरा करने और ज़मीन का इंतकाल उसके नाम पर दर्ज करने के बदले एक लाख रुपए रिश्वत की माँग की थी। उसने आगे बताया कि बार-बार विनती करने पर सौदा 50,000 रुपए में तय हुआ, जिसमें से राकेश कुमार ने 30,000 रुपए तहसीलदार के लिए और 20,000 रुपए अपने ली माँगे। शिकायतकर्ता ने उक्त रीडर के साथ रिश्वत देने के बारे हुई बातचीत रिकार्ड कर ली जो उसने सबूत के तौर पर ब्यूरो को सौंप दी।
प्रवक्ता ने बताया कि इस शिकायत की पड़ताल के दौरान यह सिद्ध हुआ कि आरोपी रीडर ने उपरोक्त मकसद के लिए शिकायतकर्ता से तहसीलदार के लिए 30,000 रुपए और अपने के लिए 20,000 रुपए की रिश्वत की माँग की है। इसके बाद मुलजिम के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के अंतर्गत विजिलेंस ब्यूरो के थाना फ़िरोज़पुर रेंज में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
विजिलेंस की तरफ से आरोपी की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है जिनको जल्द ही गिरफ़्तार कर लिया जायेगा और जांच के दौरान सम्बन्धित नायब तहसीलदार की भूमिका की भी जांच की जायेगी।