Saturday , June 15 2024

लुधियाना में छुटि्टयों के सरकारी आदेश के बावजूद खुले 10 स्कूलों पर होगी सख्त कार्रवाई

खबर खास, चंडीगढ़ :
बेतहाशा गर्मी के चलते प्रजाब सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी और निजी स्कूलों में 20मई से 21 मई तक छुट्‌टी का ऐलान किया था। इसके साथ ही सरकार ने आदेश दिए थे कि इस दौरान यदि कोई स्कूल खुला पाया गया तो नियम के मुताबिक सख्त कार्रवाई की जाएगी। बावजूद इसके लुधियाना के कुछ स्कूल सरेआम सरकारी आदेश की धज्जियां उड़ाते हुए दिखे और उन्होंने स्कूल खोले हुए थे। इस दौरान स्कूल में आ रहे बच्चे तो गर्मी से त्रस्त दिखे ही साथ ही उनके अभिभावकों ने इसपर विरोध भी जताया।
इस बात की शिकायत पारिवारिक सदस्यों ने उपायुक्त साक्षी साहनी को तो उन्होंने सख्त नोटिस लेते हुए जांच के बाद उन स्कूलों पर कार्रवाई के आदेश दिए गए थे। उपायुक्त की ओर से की गई जांच में लुधियाना के 10 स्कूलों के नाम सामने आए हैं जो सरकारी आदेशों के बावजूद खुले थे। डीईओ ने सभी स्कूलों की सूची उपायुक्त को भेज दी है। इन स्कूलों में टैंडर इंटरनेशनल स्कूल, जोसफ सैक्रेड हार्ट स्कूल, साउथ सिटी, गुरु नानक पब्लिक स्कूल बासीसियां, गुरु हरकृशन आदर्श स्कूल धांदरा, सराभा नगर का पिंकी प्लेवे स्कूल, हरकृशन स्कूल लुधियाना, ई-कैनेडियन स्कूल लुधियाना, श्री राम यूनिवर्सल स्कूल सराभा नगर, गुरु नानक पब्लिक स्कूल मुल्लांपुर, सैंट्रल माडल स्कूल लुधियाना शामिल हैं।
सारा मामला साफ होने के बाद उपायुक्त ने स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं। बताया जा रहा है कि स्कूल अभिभावकों के समक्ष मासिक परीक्षा का हवाला दे कर बच्चों को स्कूल बुला रहे हैं, जिसका अभिभावक विरोध कर रहे हैं। निजी स्कूलों का तर्क है कि मासिक परीक्षा है जिकसके चलते बच्चों की पढ़ाई खराब हो सकती है। लेकिन परिवार का कहना है कि यदि गर्मी के कारण स्कूल जाते वक्त बच्चों को कुछ हो जाता है तो उसका जिम्मेवार कौन होगा।