Saturday , June 22 2024

मुजफ्फरनगर: भूत-प्रेत उतारने के लिए चाची बनी कातिल, 2 मासूमों की दी बलि

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में अंधविश्वास के चलते एक महिला ने अपने ही दो भतीजों की बलि देकर उन्हें मार डाला. ऐसा उसने तांत्रिक के कहने पर किया. तांत्रिक ने महिला से कहा था कि उस पर भूत-प्रेत का साया है. इसे उतारने के लिए उसे बलि देनी होगी. बस फिर क्या था. महिला ने एक महीने के अंदर अपने ही दो भतीजों की बलि दे डाली. पुलिस ने मामले में हत्यारोपी महिला और उसकी मां को गिरफ्तार कर लिया है. तांत्रिक फिलहाल फरार है. उसकी तलाश की जा रही है.

घटना खतौली इलाके के कैलावड़ा गांव की है. 17 मई को यहां एक घर के अंदर से सात साल के बच्चे का शव बरामद हुआ था. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया. शव के पास से पुलिस ने तांत्रिक क्रिया का कुछ सामान और एक चिट्ठी भी बरामद की, जिस पर लिखा था- अब शांति मिली… आत्मा को शांति मिले. बस पुलिस को यहीं से शक हो गया कि मामला कुछ गड़बड़ है. इसकी जांच जारी रखी गई.

इससे पहले 24 अप्रैल को घर के अंदर से ही मृतक के पांच वर्षीय भाई का शव भी संदिग्ध परिस्थितियों में बरामद हुआ था. उस समय परिजनों ने बीमारी के चलते मासूम की मौत होने की बात सोचकर मृतक बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया था. जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो सामने आया कि बच्चों की चाची अंकिता और उसकी मां रीना ने तांत्रिक के कहने पर बच्चों की हत्या की थी. पुलिस ने अंकिता और रीना को गिरफ्तार कर लिया है और तांत्रिक की तलाश में जुटी हुई है.