Thursday , May 30 2024

पटियाला का हर शख्स मेरे परिवार का सदस्य : परनीत कौर

कहा, प्रचार दौरान जब मैं लोगों से मिलती हूं, तो वे कहते हैं कि उन्हें केवल मुझ पर भरोसा है

खबर खास, पटियाला :

मैं एक बहू के रूप में पटियाला आई और मुझे पहले एक बेटी और अब परिवार के सदस्य के रूप में प्यार मिला है। पटियाला जिले के हर घर से मेरा विशेष रिश्ता है। लोकसभा चुनाव के प्रचार दौरान जब मैं लोगों से मिलती हूं, तो वे कहते हैं कि उन्हें केवल मुझ पर भरोसा है और हमेशा की तरह इस बार के लोकसभा चुनाव में वह अपना आशीर्वाद उन्हें देंगे। पटियाला के लोगों ने मुझे जो प्यार, स्नेह और “भरोसा” दिया है, वह मेरा सबसे बड़ा खजाना है। ये भावनात्मक विचार शनिवार को पूर्व विदेश राज्य मंत्री एंव सांसद परनीत कौर ने समाना में आयोजित जनसभाओं को संबोधित करते हुए लोगों से सांझा किए। परनीत कौर ने कहा कि मेरे और मेरे परिवार के लिए पटियाला और पंजाब की सेवा एक पवित्र कर्तव्य है। हम गुरु के “हुकुम” का पालन कर रहे हैं और अपने पूर्वजों द्वारा की गई प्रतिज्ञा को पूरा करते आ रहे हैं। जब भी हमें पंजाब और सत्ता के बीच चयन करना पड़ा, हमने बिना किसी हिचकिचाहट के पंजाब को ही चुना है। उन्होंने कहा कि चाहे वह 1984 में (ब्लूस्टार के बाद), 2004 में (एसवाईएल का मुद्दा, हमारी मौजूदा सरकार के खिलाफ गया), या 2021 (जब कैप्टन साहब ने इस्तीफा दे दिया) पंजाब के मामलों पर दिल्ली दरबार के रास्ते पर चलने से इनकार)। “पटियाला लोकसभा की गली-गली में बच्चा-बच्चा जानता है कि जब बात पंजाब या पटियाला की हो, तो एक ही परिवार है जो हमेशा पंजाब की जनता के साथ खड़ा है” वह परिवार कैप्टन अमरिंदर सिंह का परिवार है। आम आदमी पार्टी के बारे में परनीत कौर ने कहा कि आप पार्टी लोगों से किए वायदों को पूरा करने में विफल रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों का दिल बड़ा है और इसी कारण से लोगों ने आप पार्टी को एक मौका दिया, लेकिन लोगों की ओर से की गई कोई उम्मीद और वायदा आप पार्टी पूरा नहीं कर पाई। आप पार्टी के पिछले 26 महीने बहुत निराशाजनक रहे हैं। महिलाओं से एक हजार रुपये प्रतिमाह दिए जाने के अपने वायदे को मान सरकार पूरा नहीं कर पाई और आज पंजाब की हरेक महिला आप पार्टी और भगवंत मान से अपने 26 हजार रुपये का हिसाब मांग रही हैं। पंजाब में अवैध खनन पर नियंत्रण से लेकर खाद्यान्न की खरीद तक कोई भी वादा पूरा नहीं किया गया। पंजाब की गाढ़ी कमाई को दिल्ली में बैठे अपने आकाओं की ओर अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए लूटा जा रहा है। केवल 2 वर्षों में, भारी जनादेश जीतने के बावजूद, पटियाला लोकसभा में मौजूदा विधायकों के खिलाफ भारी सत्ता विरोधी लहर है। पंजाब के लोगों को एहसास हो गया है, गारंटी तो हर कोई दे सकता है, लेकिन उसे पूरा केवल मोदी और भाजपा ही कर सकती हैं।

इस अवसर पर पारदमान विरक (पूर्व चेयरमैन मार्केट कमेटी), सुखबीर सिंह संधू (आप एमसी समाना), अविनाश डांग (अध्यक्ष भावलपुर बिरादरी), राम बाबू शर्मा (अध्यक्ष परवासी बिरादरी) और पवन तुलानी सहित कई परिवार भाजपा में शामिल हुए। (सिद्धिविनायक महावीर मंदिर) ने भी भाग लिया।