Thursday , May 30 2024

कोई संरक्षण नहीं, अब केवल कार्रवाई ; गैंगस्टरों से निपटने के लिए सीएम मान का स्पष्ट संदेश

मुख्यमंत्री ने मोहाली में गैंगस्टरों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई की सराहना की, पंजाब पुलिस ने 48 घंटे में बॉक्सर मर्डर केस सुलझाया

सीएम मान की एजीटीएफ ने अब तक 1013 गैंगस्टरों/अपराधियों को गिरफ्तार किया, 11 को निष्क्रिय किया, 1025 हथियार बरामद किए

खबर खास, चंडीगढ़ :

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने गुरुवार को दो गैंगस्टरों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पंजाब पुलिस की सराहना की और अपने एक्स अकाउंट के जरिए जानकारी दी कि दोनों गैंगस्टर गिरफ्तार कर लिए गए हैं।

सीएम मान ने अपने एक्स अकाउंट पर लिखा, “पंजाब पुलिस ने दो गैंगस्टरों के खिलाफ कार्रवाई की और उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पंजाब में गैंगस्टरवाद के लिए अब कोई जगह नहीं है। जो कोई भी कानून को अपने हाथ में लेने की कोशिश करेगा, उसे याद रखना चाहिए कि गैंगस्टरों को अब कोई राजनीतिक संरक्षण नहीं है। पंजाब में ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”

गौरतलब है कि इससे पहले आज न्यू मुल्लांपुर में गैंगस्टर्स और मोहाली पुलिस की स्पेशल सेल के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस मुठभेड़ में दो बदमाश विक्रम राणा उर्फ हैप्पी और किरण घायल हो गए और फिर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। इन पर बाउंसर मनीष कुमार की हत्या का भी आरोप है। परसों मनीष कुमार उर्फ मणि राणा की हत्या कर दी गयी थी। मोहाली पुलिस की स्पेशल सेल ने कुशलता से काम किया और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पंजाब में एंटी-गैंगस्टर टास्क फोर्स (एजीटीएफ) की स्थापना की। इस बल का नेतृत्व अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजीपी) रैंक का एक पुलिस अधिकारी करता है। इस टास्क फोर्स का उद्देश्य संगठित अपराध को खत्म करना और राज्य में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करना है। मान सरकार पंजाब पुलिस की दक्षता सुनिश्चित करने के लिए पुलिस विभाग को अपेक्षित जनशक्ति, नवीनतम उपकरण और सूचना प्रौद्योगिकी भी प्रदान कर रही है।

मुख्यमंत्री ने बार-बार कहा है कि पंजाब सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता राज्य से गैंगस्टरों और नशा की समस्या को खत्म करना है। पिछली सरकारें प्रदेश में नशे के कारोबार और गैंगस्टरों को संरक्षण देती थीं लेकिन अब इनमें से किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। आप सरकार का पहले दिन से ही गैंगस्टरवाद के खिलाफ कड़ा रुख रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हर कीमत पर पंजाब में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि किसी को भी राज्य की शांति को भंग करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। गैंगस्टरों और असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। भगवंत मान ने पंजाबियों को आश्वासन दिया कि हम पंजाब को एक शांतिपूर्ण, समृद्ध और प्रगतिशील राज्य बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।