Thursday , May 30 2024

अमित शाह बोले, वोट बैंक खिसकने के डर से अयोध्या नहीं गए राहुल, प्रियंका, अखिलेश

बदायूं. यूपी के बदायूं में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी व सपा के अखिलेश यादव इस डर से अयोध्या में  राम मंदिर प्रतिष्ठा समारोह में शामिल नहीं हुए कि इससे उनका वोट बैंक खिसक सकता है. उन्होने कहा कि पीएम मोदी  ने हमारे सारे श्रद्धा के केंद्रों को ऊर्जावान बनाने का काम किया है. ये काम सपा, बसपा और कांग्रेस नहीं कर सकती.

सभा को संबोधित करते हुए केन्द्रीय गृहमंत्री श्री शाह ने आगे कहा कि आप सभी अयोध्या में भव्य  राम मंदिर बनने से बहुत खुश हैं. अखिलेश व डिंपल बहन, राहुल बाबा व प्रियंका को भी प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण दिया गया था मगर वो नहीं गए. क्योंकि वो अपने वोट बैंक से डरते हैं. उन्होंने कहा कि औरंगजेब काशी विश्वनाथ का दरबार तोड़ कर गया था, तब से वह जस का तस पड़ा था. नरेन्द्र मोदी ने काशी विश्वनाथ कॉरिडोर को भव्य बनाने का काम किया है. महाकाल लोक बनाया, केदार धाम व बद्री धाम को पुनर्जीवित किया और सोमनाथ का मंदिर भी अब सोने का बन रहा है. उन्होंने कहा कि यहां यादव समाज बहुत बड़ी संख्या में रहता है. ये अखिलेश अपने आप को यादवों का खैर-ख्वाह कहते हैं. मैं इनसे पूछता हूं कि क्या आपको अपने परिवार के सिवा कोई यादव नहीं दिखता, आप खुद लड़ रहे हो, डिंपल लड़ रही हैं, अक्षय भी लड़ रहा है, धर्मेंद्र भी लड़ रहा है.  एक और लड़ रहा है. पांचों यादव आपने अपने परिवार से दे दिए. मुझे बताइए बदायूं के यादवों का नंबर कब लगेगा. वहीं सीतापुर में शाह ने कहा कि मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने का मतलब है. भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाना, देश को आतंकवाद से मुक्त करना, पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देकर उनको अपनी जमीन पर रखना.

काश्मीर से केरल तक आंतकबाद को खत्म करना है-

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गुंडों से छुटकारा पाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तीसरा कार्यकाल वापस लाना होगा. यह चुनाव कश्मीर से केरल तक आतंकवाद को खत्म करने के लिए है. यह चुनाव छत्तीसगढ़ से झारखंड तक नक्सलवाद को खत्म करने और यूपी को गुंडों और माफियाओं से छुटकारा दिलाने के लिए है.