Thursday , May 30 2024

रात कितनी भी लंबी हो, सच का सूरज चढ़ता ही है; 2022 में जनता ने चढ़ाया था सच का सूरज… 

श्री फ़तेहगढ़ साहिब में बोले मुख्यमंत्री मान, मुझे पूरा विश्वास है इस बार आप लोग भारी मतों से गुरप्रीत जीपी को जिता कर पंजाब की आवाज़ को बुलंद करेंगे

केवल दो वर्षों में पंजाब के नौजवानों को दी 43,000 सरकारी नौकरियां,  पंजाब के युवाओं को नौकरियां और काम के मिल रहे हैं अवसर, उन्हें अब विदेशों में जाने की नहीं है ज़रूरत- भगवंत मान

खबर खास, चंडीगढ़/फतेहगढ़ साहिब :

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने शुक्रवार को पंजाब में आगामी लोकसभा चुनाव के लिए श्री फतेहगढ़ साहिब की पवित्र भूमि से आम आदमी पार्टी (आप) के चुनाव अभियान की शुरुआत की। मान ने शहर में भारी बारिश और ओलावृष्टि के बावजूद लोगों की एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वह कार्यकर्ताओं से मिलने और एकत्रित लोगों को संबोधित करने से पहले वापस नहीं जाएंगे।

मान ने कहा कि उन्हें थोड़ी बारिश या ओलावृष्टि से डर नहीं लगता। उन्होंने कई तूफानों का सामना किया है। लेकिन अभी पंजाब में गेहूं की फसल की कटाई का समय है इसलिए यह बारिश अच्छी नहीं है। उन्होंने लोगों से कहा कि वे किसी भी बात की चिंता न करें। वह उनके साथ हैं। वे (आप सरकार) इस बारिश के कारण किसानों को होने वाले हर नुकसान की भरपाई करेंगे। उन्होंने कहा कि बादल और तूफान अंततः गुजर जाते हैं और सूरज फिर से चमकता है। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि आम आदमी पार्टी अपने चुनाव अभियान की शुरुआत श्री फतेहगढ़ साहिब की पवित्र धरती से कर रही है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे आप उम्मीदवार गुरप्रीत सिंह जीपी को वोट दें और उन्हें हमारे देश की सबसे बड़ी पंचायत में उनकी आवाज बनाकर संसद में भेजें।

जनसभा को संबोधित करते हुए मान ने कहा कि कुछ काम ऐसे होते हैं जिन्हें मनुष्य करता है और उसे लगता है कि उसके जीवन का लक्ष्य पूरा हो गया है। वह इसके अलावा कुछ और नहीं मांग सकता। 27 दिसंबर 2018 को मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ था। मैंने तत्कालीन स्पीकर सुमित्रा महाजन जी से कहा था कि सदन को साहिबजादों को श्रद्धांजलि देनी चाहिए क्योंकि दिसंबर महीने के आखिर में उनका शहीदी सप्ताह होता है। उन्होंने मुझसे एक लिखित प्रस्ताव मांगा और मैंने उसे प्रस्तुत कर दिया। 27 दिसंबर को सदन की कार्यवाही गुरु गोबिंद सिंह जी के छोटे साहिबजादे को श्रद्धांजलि देकर शुरू की गई। वो एक ऐतिहासिक दिन था। अब ये रिकॉर्ड में है। हर साल चाहे आज से कितने भी साल बाद 27 दिसंबर को संसद छोटे साहिबज़ादे की शहादत को श्रद्धांजलि देने के बाद अपना काम शुरू करेगी। उन्होंने कहा कि तथाकथित पंथक पार्टी के नेताओं ने कभी भी संसद से हमारे साहिबजादों को श्रद्धांजलि देने के लिए नहीं कहा। क्योंकि या तो वे निर्वाचित होने के बाद संसद में नहीं जाते या फिर केवल अपने निजी स्वार्थों के लिए वहां जाते हैं।

उन्होंने कहा कि वह युवाओं को 43 हजार सरकारी नौकरियां देने के बाद आज जनता के सामने खड़े हैं, वह भी बिना किसी रिश्वत और सिफारिश के। आज 90% से अधिक घरों में शून्य बिजली बिल आ रहे हैं। हमने विश्वस्तरीय सरकारी स्कूल बनवाए। सरकारी अस्पतालों की हालत सुधारी। वहां दवा उपलब्ध कराई और आम आदमी क्लीनिक खोले। मैंने परिवहन, रेत खदानों और ढाबों में शेयर खरीदने के लिए पंजाब की सार्वजनिक संपत्तियों को नहीं बेचा। मैंने पंजाब के लोगों को मुफ्त बिजली देने के लिए एक थर्मल पावर प्लांट खरीदा। मैं एक सफल कलाकार था। अगर मुझे सिर्फ पैसा चाहिए होता तो मैं मनोरंजन के क्षेत्र में खूब पैसा कमा सकता था। हम हर खेत को नहरी पानी देने के लिए नई नहरें बना रहे हैं ताकि भूजल बचाया जा सके। आज पंजाब के कोने-कोने में नहर का पानी पहुंच रहा है। कहीं-कहीं 30 साल बाद सिंचाई का पानी उपलब्ध कराया गया। पंजाब में हमारी सरकार ने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाया। लोगों को राशन और सरकारी सेवाएं उनके दरवाजे पर मिल रही हैं। हमने अपने बुजुर्गों के लिए मुफ्त तीर्थयात्रा योजना शुरू की।

उन्होंने आगे कहा कि वह केवल उन फाइलों पर हस्ताक्षर करते हैं जिनमें जन-समर्थक और पंजाब-समर्थक निर्णय होते हैं। मैं किसी भी फाइल पर हस्ताक्षर करने से पहले अपने कार्यकर्ताओं के बारे मंज भी सोचता हूं क्योंकि वे ही हैं जो हर रोज लोगों का सामना करते हैं। अब वे हमारी सरकार के हर फैसले और काम की चर्चा गर्व से करते हैं। उन्होंने कहा कि अब हमारे युवाओं को पंजाब में नौकरियां मिल रही हैं। उन्हें कनाडा या अन्य देशों में पलायन नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जब वह मनोरंजन के क्षेत्र में थे तो उन्होंने दुनिया भर की यात्रा की है लेकिन पंजाब की ज़मीन और मौसम सबसे अच्छा है। हमारे लोग दुनिया के सबसे मेहनती लोग हैं। हम कहीं भी और किसी भी चीज़ में सफल हो सकते हैं। हम रिकॉर्ड चावल और गेहूं का उत्पादन करते हैं। अब हमारे युवाओं को पंजाब में अवसर मिल रहे हैं और उन्हें दूसरे देशों में जाने की जरूरत नहीं है। हम पंजाब में कपड़ा उद्योग, हिंदुस्तान यूनिलीवर और टाटा स्टील जैसे उद्योग ला रहे हैं। हम अपनी जमीन और पानी बचाने के लिए किसानों को फसल विविधीकरण के लिए भी प्रोत्साहित कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया क्योंकि उन्हें गलतफहमी है कि वे आम आदमी पार्टी को रोक सकते हैं। लेकिन वे नहीं जानते कि नदियां अपने बहाव के साथ अपना रास्ता खुद बनाती हैं। मैं दो दिन पहले गुजरात में था। वहां आम आदमी पार्टी के पक्ष में लोगों की सुनामी थी। हमें असम और कुरूक्षेत्र में जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है। आपको न केवल अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए बल्कि अपने लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए भी मतदान करना है। 2014 में श्री फतेहगढ़ साहिब उन चार सीटों में से एक थी जिन पर आप ने जीत हासिल की थी। इस बार फिर लोग आम आदमी पार्टी को वोट देंगे।
उन्होंने कहा कि पत्रकार मुझसे पूछते हैं कि हमने दिल्ली और पंजाब में मोदी को कैसे रोका। मैं कहता हूं कि कीचड़ में कमल खिलता है। झाड़ू से हम उस कीचड़ को साफ करते हैं इसलिए दिल्ली और पंजाब में कमल नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पिछली बार उनके दो सांसद जीते थे लेकिन इस बार उन्हें पंजाब में शून्य मिलेगा।

उन्होंने कहा कि एकमात्र समस्या यह है कि अभी वह अकेले ही केंद्र सरकार, पंजाब विरोधी लोगों और राज्यपाल आदि के खिलाफ लड़ रहे हैं। लेकिन जब संसद में अपना प्रतिनिधि आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार पहुंचेंगे तो वे हमारे साथ आपकी आवाज बनेंगे। वे वहां पंजाब के अधिकारों की रक्षा करेंगे। हमें पंजाब से 13 सांसद दीजिए, हम दिल्ली, गुजरात, असम और कुरूक्षेत्र में भी जीतेंगे। हमारे पास पहले से ही 10 राज्यसभा सांसद हैं। जब संसद में हमारे पास 30-40 सांसदों की ताकत होगी, तो कोई भी हमारी जन-समर्थक नीतियों को नहीं रोक पाएगा और हमारे फंड को भी नहीं रोक पाएंगे।

उन्होंने कहा कि वह पंजाब में सभी विपक्षियों से मुकाबला करने के लिए काफी हैं। उन्हें पंजाब के लोगों का समर्थन प्राप्त है। जनता ने उन्हें 2022 में ऐतिहासिक जनादेश दिया और 92 आप विधायकों को पंजाब विधानसभा में भेजा। अब एक बार फिर मैं आपके बीच हूं। आपसे ‘झाड़ू’ को वोट देने के लिए कह रहा हूं। यही ‘झाड़ू’ राजनीतिक गंदगी को साफ करेगा। उन्होंने कहा कि अकाली दल समाप्त हो गया है। कांग्रेस और भाजपा नेता पदों और टिकटों के लिए आपस में लड़ रहे हैं। वे सभी पंजाब में आप सरकार के दो साल के काम से घबरा गए हैं। उन्होंने कहा कि वे न केवल अपनी हार से हताश हैं बल्कि इस बात से भी आक्रोशित हैं कि आम परिवार की बेटे-बेटियां विधानसभा में कैसे पहुंच गये। आम लोग सीएम, मंत्री और चेयरमैन कैसे बन गये। उन्होंने विपक्षी नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि एक नई तरह की बेरोजगारी हो रही है। उन्हें राजनीति के अलावा कुछ नहीं पता लेकिन अब जनता ने उन्हें नेता के रूप में खारिज कर दिया है तो उन्हें नहीं पता कि अब क्या करना है।

इस मौके पर आप विधायक रुपिंदर सिंह हैप्पी (बस्सी पठाना), लखबीर सिंह राय (फतेहगढ़ साहिब), गुरिंदर सिंह गैरी वड़िग (अमलोह), तरूणप्रीत सिंह सोंढ (खन्ना), जगतार सिंह (समराला), हरदीप सिंह मुंडियां (साहनेवाल) और हाकम सिंह ठेकेदार (रायकोट) भी उपस्थित थे। मान ने कहा कि वह हर विधानसभा क्षेत्र में प्रचार करेंगे और उन्हें बहुत खुशी है कि पार्टी अपना अभियान शहीदों की धरती श्री फतेहगढ़ साहिब से शुरू कर रही है। उन्होंने लोगों से आप उम्मीदवार गुरप्रीत सिंह जीपी को वोट देने और लोकसभा चुनाव भारी अंतर से जिताने का आग्रह किया।