Thursday , May 30 2024

आचार संहिता लागू होने के बाद पंजाब में 243.95 करोड़ की नकदी, शराब, ड्रग और अन्य कीमती वस्तुएं हुईं ज़ब्त : सिबिन सी

आदर्श चुनाव आचार संहिता को सख़्ती से लागू करने के लिए अलग-अलग एजेंसियों द्वारा चौकसी और बढ़ाई गईः सीईओ
ग़ैर-कानूनी तस्करी रोकने के लिए अंतरराज्यीय नाकों पर 48 हाईटैक सीसीटीवी कैमरे स्थापित, 13 लोक सभा हलकों में हाईटैक कैमरों वाली 351 गाड़ियों के द्वारा फ्लाइंग स्क्वाड टीमें रख रही हैं नज़र

खबर खास, चंडीगढ़ :

लोक सभा मतदान-2024 के मद्देनज़र 16 मार्च से पूरे देश में चुनाव आचार संहिता लागू है और इस दौरान अलग-अलग सुरक्षा और अन्य एजेंसियों की तरफ से पंजाब में कुल 243.95 करोड़ रुपए की नकदी, शराब, ड्रग और अन्य कीमती समान ज़ब्त किया जा चुका है।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी ने बताया कि पंजाब में स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके के साथ मतदान करवाने के लिए सख़्त सुरक्षा प्रबंध किये गए हैं और 16 मार्च से 17 अप्रैल 2024 तक सबसे ज़्यादा 158.76 करोड़ रुपए की नकदी, शराब/ नशीले पदार्थ और अन्य वस्तुएँ पंजाब पुलिस द्वारा ज़ब्त की गई हैं।

सिबिन सी ने आगे बताया कि चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद 17 अप्रैल तक पंजाब पुलिस ने 2. 49 करोड़ रुपए की नकदी, 7.06 करोड़ रुपए की शराब, 148.21 करोड़ रुपए के नशीले पदार्थ, 25.6 लाख रुपए की कीमती वस्तुएँ और 74.2 लाख रुपए की कीमत वाली अन्य वस्तुएँ ज़ब्त की हैं। इसी तरह राज्य के आबकारी विभाग ने 6.77 करोड़ रुपए की शराब और 2 लाख रुपए के नशीले पदार्थ और बी. एस. एफ ने 19.66 करोड़ रुपए के ड्रग्गज़ और नशीले पदार्थ, 40 लाख रुपए की कीमती वस्तुएँ और 36 लाख रुपए की नकदी ज़ब्त की है।

इसके इलावा 45.92 करोड़ रुपए के ड्रग्गज़ और नशीले पदार्थ, 3.15 करोड़ रुपए की नकदी, 8.84 करोड़ रुपए की कीमती वस्तुएँ और 6 लाख रुपए की कीमत वाली अन्य वस्तुओं को अलग-अलग एजेंसी की तरफ से ज़ब्त किया गया है। इस तरह एक महीने के दौरान यह सारी जब्ती 243.95 करोड़ रुपए बनती है। उन्होंने कहा कि बीते दिनों भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किये आंकड़ों से अनुसार जब्ती के मामले में पंजाब देश भर में पाँचवे स्थान पर रहा। इन आंकड़ों के अनुसार 1 मार्च, 2024 से 15 अप्रैल, 2024 तक पंजाब में 311 करोड़ रुपए की जब्ती की गई है।

सिबिन सी ने कहा कि ड्रग, शराब, नकदी और अन्य समान की ग़ैर-कानूनी तस्करी को रोकने के लिए अंतरराज्यीय नाकों पर 48 हाईटैक सीसीटीवी कैमरों के साथ 24 घंटे नज़र रखी जा रही है और राज्य के सभी 117 विधान सभा हलकों में फ्लाइंग स्क्वाड टीमों द्वारा हाईटैक सीसीटीवी कैमरों से लैस 351 गाड़ियों ( हरेक विधान सभा हलके लिए 3 गाड़ियों) के द्वारा हर समय पर निगरानी की जा रही है और इसकी लाइव फिड सीधी ज़िला और स्टेट मॉनिटरिंग कंट्रोल रूम को भेजी जा रही है।

सिबिन सी ने आगे बताया कि चुनाव प्रक्रिया को सुचारू ढंग के साथ चलाने के लिए राज्य के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को आदर्श चुनाव आचार संहिता को सख़्ती के साथ लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके इलावा अंतरराज्यीय तालमेल को और मज़बूत करने के साथ-साथ सरहदी जिलों में बी. एस. एफ और अन्य सम्बन्धित एजेंसियों की तरफ से भी चौकसी बढ़ा दी गई है जिससे सरहद पार से आते हथियारों और नशीले पदार्थों पर रोक लगायी जा सके। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों अनुसार सारा अमला राज्य में निष्पक्ष और शांतमयी तरीके के साथ मतदान करवाने के लिए वचनबद्ध है और इस सम्बन्ध में हर संभव कदम उठाए जा रहे हैं।