Sunday , May 19 2024

जेल में केजरीवाल से मिल भावुक हुए भगवंत मान, बोले- मुख्यमंत्री के साथ हो रहा आतंकवादियों जैसा सलूक

– केजरीवाल ने स्कूल-अस्पताल बना दिए, बिजली-पानी मुफ्त कर दी, यही कसूर है, जो उन्हें दुर्दांत अपराधियों वाली सहूलियतें भी नहीं मिल रही- भगवंत मान

– हमें शीशे के पार से केजरीवाल से फोन पर बात कराई गई, शीशा भी बहुत गंदा था, एक-दूसरे की शक्ल भी अच्छे से नहीं दिख रही थी- भगवंत मान

– आम आदमी पार्टी एकजुट है और चट्टान की तरह केजरीवाल के साथ खड़ी है, चुनाव परिणाम के बाद ‘‘आप’’ बड़ी शक्ति बनकर उभरेगी- भगवंत मान

– अगले हफ्ते से सीएम केजरीवाल दो मंत्रियों को जेल में बुलाकर उनके विभागों की समीक्षा करेंगे कि काम कैसा चल रहा है- डॉ. संदीप पाठक

नई दिल्ली :

पंजाब के सीएम भगवंत मान और ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय महासचिव संगठन डॉ. संदीप पाठक ने सोमवार को जेल में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। उनकी यह मुलाकात करीब 30 मिनट चली। इस दौरान जेल में अरविंद केजरीवाल के साथ हो रहे गलत व्यवहार को देखकर भगवंत मान भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि जेल में सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ आतंकवादियों जैसा सलूक किया जा रहा है। हमें शीशे के पार से फोन पर बात कराई गई, शीशा भी बहुत गंदा था, एक-दूसरे की शक्ल भी अच्छे से नहीं दिख रही थी। अरविंद केजरीवाल का कसूर इतना ही है कि उन्होंने स्कूल-अस्पताल बना दिए, लोगों की बिजली-पानी मुफ्त कर दी। इसलिए उनको दुर्दांत अपराधियों वाली सहूलियतें भी नहीं मिल रही हैं। वहीं, डॉ. संदीप पाठक ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने पूरे समय दिल्ली और पंजाब की जनता के सुख-दुख के बारे में पूछा। उन्हांेने पूछा कि लोगों को मुफ्त बिजली, पानी, इलाज और महिलाओं को बस सेवा की सुविधाएं मिल रही हैं या नहीं। अगले हफ्ते से वो दो मंत्रियों को जेल में बुलाकर उनके विभागों की समीक्षा करेंगे।

सोमवार को जेल में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात करने के बाद पंजाब के सीएम भगवंत मान ने कहा कि हमारी आधे घंटे की मुलाकात थी। हमें दोपहर 12 से 12ः30 बजे तक मिलने का समय दिया गया था। मैं जैसे ही उनसे मिला, यह देखकर दिल को काफी दुख हुआ कि जो सहूलियतें दुर्दांत अपराधियों तक को दी जाती हैं, सीएम अरविंद केजरीवाल को वो सुविधाएं तक नहीं दी जा रही हैं। अरविंद केजरीवाल का क्या कसूर है? उनका कसूर केवल इतना है कि उन्होंने लोगों के लिए अस्पताल, मोहल्ला क्लीनिक और स्कूल बना दिए। सभी के लिए बिजली, पानी मुफ्त कर दिया। आप उनके साथ ऐसा सुलूक कर रहे हैं, जैसे कोई बहुत बड़ा आतंकवादी पकड़ लिया हो।

सीएम भगवंत मान ने कहा कि जेल मैनुअल के नियम के अनुसार, जेल में अच्छा आचरण होने पर आरोपी को आमने-सामने मुलाकात की इजाजत दी जा सकती है। जिस समय पी. चिदंबरम जेल में थे और सोनिया गांधी उनसे मिलने आती थीं, तब उन्हें एक कमरे में आमने-सामने बैठाकर मुलाकात करवाई जाती थी। प्रकाश सिंह बादल को भी आमने सामने बैठाकर मिलवाया जाता था। लेकिन आज शीशे के आर-पार से फोन के जरिए ऐसे मुलाकात करवाई गई, जैसे कोई बड़ा अपराधी सामने बैठा हो। इनको पता नहीं क्यों हम से इतनी दुश्मनी है कि हमारे साथ आतंकवादियों की तरह व्यवहार किया जा रहा है। अरविंद केजरीवाल साथ ऐसा सुलूक क्यों किया जा रहा है? विपक्ष के साथ ऐसा व्यवहार उन्हें महंगा पड़ेगा। अरविंद केजरीवाल वो कट्टर ईमानदार व्यक्ति है, जिसने पारदर्शिता की राजनीति शुरु की और बीजेपी की राजनीति खत्म की। उनके साथ ऐसा व्यवहार देखकर आज बहुत दुख हुआ।

भगवंत मान ने बताया कि जब मैंने अरविंद केजरीवाल से उनका हाल चाल पूछा तो उन्होंने कहा कि मेरी चिंता मत करो, मुझे ये बताओ कि पंजाब का हाल कैसा है? पंजाब में अच्छे स्कूल बन रहे हैं, पंजाब में गेहूं फसलों को मंडियों में उठाने का इंतजाम हुआ, वहां आम आदमी क्लीनिक ठीक चल रहे हैं, लोगों को मुफ्त बिजली मिल रही है, क्योंकि हम नाम की नहीं, काम की राजनीति करते हैं। मैंने उन्हें बताया कि पंजाब अच्छा कर रहा है। मैं असम भी होकर आया हूं, मंगलवार को गुजरात जाउंगा। दिल्ली में भी प्रचार करूंगा, कुरूक्षेत्र गया हूं। आम आदमी पार्टी एक सोच का नाम है। अरविंद केजरीवाल उस सोच का नाम है। आप एक व्यक्ति को तो गिरफ्तार कर लोगे, लेकिन उसकी सोच को कैसे गिरफ्तार करोगे।

सीएम भगवंत मान ने अरविंद केजरीवाल को जेल जाने के बाद आम आदमी पार्टी में भगदड़ मच गया है, मीडिया के इस आरोप को सिरे से नकारते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी अनुशासित ग्रुप है। आम आदमी पार्टी एक बहुत ही अनुशासन में रहने वाली जमात है। आम आदमी पार्टी पूरी तरह से एक साथ और एकजुट है। हम सभी चट्टान की तरह अरविंद केजरीवाल के साथ खड़े हैं। अरविंद केजरीवाल जल्द ही जेल से बाहर आएंगे। जब 4 जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे आएंगे तो आम आदमी पार्टी एक बहुत बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी। इसके साथ ही सीएम अरविंद केजरीवाल ने बेहर तरीके से संगठन चलाने के लिए संदीप पाठक की सराहना की। इसके अलावा, अरविंद केजरीवाल ने मेरी ड्यूटी इस बात के लिए लगई है कि मुझे लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए जगह-जगह जाना है। इंडिया गठबंधन के घटक दलों के लिए प्रचार करने के लिए किसी राज्य में जाना पड़े तो वहां भी मुझे जाना है। कुल मिलाकर अरविंद केजरीवाल को देश और संविधान की चिंता थी कि संविधान बचेगा, तभी पार्टी बचेगी।

न्याय पालिक को बदनाम करने का आरोप लगाते हुए 21 सेवा निवृत्त जजों द्वारा मुख्य न्यायाधिश को चिट्ठी लिखे जाने के सवाल पर सीएम भगवंत मान ने कहा कि आज देश में जो हालात हो गए हैं, आप किसी से भी पूछ लें तो वो कहेगा कि अरविंद केजरीवाल को उन्होंने गलत जेल में डाला हुआ है। ये चाहते हैं कि देश में विपक्ष न हो। केवल हम ही चुनाव लड़ें और जीतें। फिर देश में लोकतंत्र कहां रह गया। यह तो तानाशाही हो गई। हम देशभक्त लोग हैं। हम देश के लिए लड़ेंगे। उन्होंने हमें संदेश दिया है कि बाहर जाकर सभी कार्यकर्ताओं, विधायक और मंत्रियों को बोलो कि मेरी चिंता न करें, जनता की चिंता करें। उन्होंने बताया कि अरविंद केजरीवाल का स्वास्थ्य ठीक है।

वहीं, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संगठन डॉ. संदीप पाठक ने बताया कि हमें सीएम अरविंद केजरीवाल से मिलने के लिए 30 मिनट का समय मिला था। जैसे ही हम उनसे मिलने गए, तो उन्हें देखकर भगवंत मान भावुक हो गए और उनकी आंखे भर आईं, उनकी आंखों से आंसू निकलने लगे। थोड़ी देर में अपने आप को संभालने के बाद आगे की बातचीत शुरु हुई। हमने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि मेरी चिंता छोड़ो और ये बताओ कि जनता कैसी है? उन्होंने पूछा कि जनता को जो मुफ्त बिजली मिल रही थी वो मिल रही है, कहीं पावर कट तो नहीं लग रहा? उन्होंने पूछा कि अस्पतालों में जो दवाइयां मिल रही थीं, क्या वो अभी भी मिल रही हैं, क्या महिलाओं को अभी भी मुफ्त बस सेवा की सुविधा जारी है? उन्होंने ये सारी चीजें पूछीं कि दिल्ली का हाल कैसा है और जनता कैसी है? हमने उन्हें एक-एक चीज बताई।

डॉ. संदीप पाठक ने बताया कि हम बार-बार पूछ रहे थे कि आप कैसे हैं और वो बोलते रहे कि मेरी चिंता छोड़ दो। उन्होंने मुझे कहा कि अगले हफ्ते से दोनों मंत्रियों को वो जेल में बुलाएंगे और वहां पर उन मंत्रियों के विभागों की समीक्षा करेंगे कि काम कैसा चल रहा है। इसके साथ-साथ उन्होंने मेरे को यह भी कहा कि सभी विधायकों को यह मैसेज पहुंचा दिया जाए कि वे जनता के पास जाएं। अपने एरिया में एक-एक घर जाकर जनता से बात करें, उनको जो भी तकलीफें हो रही है, उन सब को दूर करें और 24 घंटे जनता के बीच में रहें। हम आज तक जिस तरह से लोगों की सेवा करते आ रहे थे, हमें उससे 10 गुना ज्यादा सेवा करनी है।

डॉ. संदीप पाठक ने बताया कि अरविंद केजरीवाल ने ये भी कहा कि वो जल्द ही बाहर आएंगे। और बाहर आकर उन्होंने महिलओं को जो 1000 रुपए महीना देना का वादा किया है उसे जरूर पूरा करेंगे। वो पूरे समय दिल्ली की जनता के बार में पूछते रहे कि लोग कैसे हैं, किसी को कोई तकलीफ तो नहीं है। उन्होंने कहा कि वो जहां पर भी रहें, उनका जीवन संघर्ष भरा रहा है और आगे भी वो संघर्ष करते रहेंगे।

भगवंत मान मीडिया से बात करने के दौरान भी हुए भावुक

सीएम अरविंद केजरीवाल से मिलने के बाद जब पंजाब के सीएम भगवंत मान और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संगठन डॉ. संदीप पाठक जेल से बाहर आए तो उन्होंने मीडिया को संबोधित किया। इस दौरान सीएम भगवंत मान जेल में अरविंद केजरीवाल के साथ किए जा रहे व्यवहार को को लेकर बेहद भावुक हो गए। उनकी आंखों में आंसू आ गए और कुछ देर तक मीडिया से बात नहीं कर पाए। खुद को संभालने के बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल से मुलाकात के बारे मे विस्तार से जानकारी दी।