Monday , April 15 2024

लोकसभा चुनाव: पंजाब के सभी पोलिंग बूथों पर कैमरों से होगी निगरानी,100 फीसद वैबकास्टिंग : सिबिन सी

कहा, सभी 24,433 पोलिंग स्टेशनों पर होगी सीसीटीवी के द्वारा निगरानी और 1884 पोलिंग स्टेशनों के बाहर लगाए जाएंगे अतिरिक्त कैमरे; चुनाव प्रक्रिया को और उचित और पारदर्शी बनाने के लिए नवीनतम आईटी सहूलतों की ली जा रही है मदद : सीईओ

खबर खास, चंडीगढ़ :

लोकसभा मतदान 2024 में चुनाव प्रक्रिया को कुशल और पारदर्शी बनाने के लिए पंजाब के मुख्य चुनाव कार्यालय की ओर से राज्य के सभी 24,433 पोलिंग स्टेशनों पर वैबकास्टिंग समेत आईटी आधारित कई अन्य नई पहलकदमियां शुरू की गई है। इसके तहत वोटरों की सुविधा के लिए कई मोबाइल ऐप और वैबसाईटों की शुरूआत, वोटरों को फोन के द्वार चुनाव उल्लंघना के संबंध में रिपोर्ट करने की सुविधा और पोलिंग स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगा कर ईवी एम के लाने-ले जाने की निगरानी करना शामिल है।
इस संबंध में जानकारी देते हुए मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी ने बताया कि पोलिंग स्टेशनों की 100 फीसद वैबकास्टिंग के द्वारा निगरानी की जायेगी जिससे चुनाव प्रक्रिया को उचित और पारदर्शी ढंग के साथ पूरा किया जा सके। उन्होंने बताया कि आगामी लोक सभा मतदान के लिए सभी 24,433 पोलिंग बूथों के अंदर सीसीटीवी निगरानी को यकीनी बनाया जायेगा। इसके इलावा सभी 13 हलकों जहाँ तीन या इससे अधिक पोलिंग स्टेशन हैं, के 1884 पोलिंग स्टेशनों के बाहर भी कैमरे लगाए जाएंगे।

सिबिन सी ने कहा कि इस बार मतदान को और सुयोग्य ढंग से सम्पूर्ण करने के लिए नवीन ज़िला सूचना प्रणाली ( डीआईएसई) को शामिल किया गया है। इसका प्रयोग मतदान के सभी पहलूओं का प्रबंधन करने, पोलिंग स्टाफ का डाटा इकट्ठा करने से लेकर रिहर्सलों की समय- सारणी तक, पोलिंग स्टाफ की रैंडमाईज़ेशन और गिनती करने के लिए किया जायेगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस आधुनिकीकरण का उद्देश्य मतदान को और ज्यादा कुशल, पारदर्शी और सुरक्षित बनाना है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस वैब एप्लीकेशन का प्रयोग एपीआईज़/ सीएसवी/ ऐक्सल फाइलों के प्रयोग के द्वारा अतिरिक्त ऐपलीकेशनों से उपलब्ध कर्मचारी डाटा को इकट्ठा करने के लिए किया जाता है। इससे अतिरिक्त स्टाफ की तैनाती करके शुरुआती पड़ाव के बाद स्टाफ की कमी के उचित प्रबंधन में भी सहायता मिलेगी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि फ्लाइंग स्क्वाड वाहनों (एफएसवी) से लाइव स्ट्रीमिंग के द्वारा और स्टैटिक सर्वीलैंस टीमें चुनाव प्रक्रिया के दौरान आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की चौकसी से निगरानी कर रही हैं। चुनाव सम्बन्धी गतिविधियों की कुशलता को बढ़ाने के लिए पोलिंग पार्टियों को तैनात करने और वोटिंग जानकारी को अप्पडेट करने के लिए इस्तेमाल की जाती पोल गतिविधि प्रबंधन प्रणाली (पीएऐमऐस) में संशोधन किया गया है। यह मोबाइल एप रियल टाईम डाटा प्रदान करेगा।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने आगे कहा कि भारतीय निर्वाचन आयोग की और नयी पहलकदमियों सहित वोटर हेल्पलाइन एप नागरिकों को वोटर सूची में अपने नाम ढूँढने, आनलाइन फार्म जमा कराने, अपनी डिजिटल फोटो वोटर स्लिप डाउनलोड करने, शिकायतें दर्ज करने और उन शिकायतों के अपने मोबायल पर जवाब प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करती है।

इसी तरह एक अन्य महत्वपूर्ण पहलकदमी के रूप में एक मोबाइल एप्लीकेशन – ‘नौ योर कैंडीडेट’ है, जो वोटरों को किसी भी उम्मीदवार के विवरण और आपराधिक पृष्टभूमि के बारे जानकारी हासिल करने की सुविधा देती है। इस ऐप का उद्देश्य पारदर्शी मतदान को यकीनी बनाने के लिए चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों के आपराधिक पृष्टभूमि के बारे व्यापक प्रचार और अधिक से अधिक जागरूकता प्रदान करना है। यह गुग्गल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा और नयी पहलकदमियां, जिसमें मोबाइल वोटर – अनुकूल एप सी विजल की शुरुआत शामिल है, जो लोगों को आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की रिपोर्ट करने के योग्य बनाती है और जिसमें लाइव लोकेशन के साथ लाइव फोटो/ वीडियो की सुविधा है।
कोई भी नागरिक इस मोबाइल एप के द्वारा शिकायत दर्ज करवा सकता है, जिसके बाद फ्लाइंग स्क्वाड मामले की जांच करते हैं और रिटर्निंग अफ़सर उल्लंघन की स्थिति को ट्रैक करने के लिए जीपीएस का प्रयोग करते हुए 100 मिनटों के अंदर फ़ैसला दे देता है।

इसी तरह मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि ‘ सक्षम-ईसीआइ’, एक एप्लीकेशन है, जो दिव्यांग व्यक्तियों (पी. डब्ल्यू. डी.) को नयी रजिस्ट्रेशन, पतों में तबदीलियाँ, विवरणों को बदलने, और अपने आप को पी. डब्ल्यू. डी. के तौर पर दर्शाने के लिए समर्थ बनाता है। यह एप चुनाव प्रक्रिया के दौरान दिव्यांगों की ज़रूरतों को पूरा करने के मद्देनज़र वॉयस असिस्टेंस, टेक्स्ट टू स्पीच, पहुँच सम्बन्धी विशेषताएं और अन्य सहूलतें प्रदान करती है।

The post लोकसभा चुनाव: पंजाब के सभी पोलिंग बूथों पर कैमरों से होगी निगरानी,100 फीसद वैबकास्टिंग : सिबिन सी first appeared on Khabar Khaas.