Saturday , April 20 2024

किसानों के हत्यारे के पिता अजय मिश्रा को फिर टिकट देकर भाजपा का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर : आप

कहा, सुनील जाखड़ को पंजाब विधानसभ के बजाए भाजपा कार्यालय या जतिंदर मल्होत्रा या अजय टैनी के घर के सामने करना चाहिए विरोध प्रदर्शन : कंग
यह अभूतपूर्व है कि सरकार मुद्दों को संबोधित कर रही है और विपक्ष बहस से भाग रहा है : कंग
बठिंडा के एक गरीब नौजवान किसान की हरियाणा बॉर्डर पर हत्या पर सुनील जाखड़ ने एक भी शब्द क्यों नहीं कहा? – कंग
खबर खास, चंडीगढ़ :
आम आदमी पार्टी(आप) ने भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस नेताओं पर तीखा हमला बोला और कहा कि दोनों पार्टियां किसान विरोधी है और वोट के लिए किसानों का इस्तेमाल करती है। सोमवार को चंडीगढ़ पार्टी कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए ‘आप’ पंजाब के मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने कहा कि हर कोई लखीमपुर खीरी की घटना और उसके दोषियों से अवगत है। लेकिन भाजपा का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर हुआ है क्योंकि उन्होंने किसानों के हत्यारे के पिता अजय मिश्रा टेनी को फिर से लखीमपुर खीरी से अपना सांसद उम्मीदवार बनाया है। कंग ने कहा कि किसान एमएसपी और लखीमपुर खीरी घटना में न्याय और अपनी जायज मांगों के लिए विरोध कर रहे हैं, लेकिन भाजपा उनकी मांग मानने के बजाय अजय कुमार मिश्रा को टिकट देकर अपने किसान विरोधी रुख को स्पष्ट कर दिया है।
मलविंदर कंग ने बीजेपी पंजाब अध्यक्ष सुनील जाखड़ को घेरते हुए कहा कि उनकी बातें काफी हास्यास्पद है। वह पंजाब विधानसभा के सामने धरना दे रहे थे, जबकि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार राज्य के किसानों और जवानों के लिए दिन-रात काम कर रही है। कंग ने कहा कि जाखड़ को भाजपा चंडीगढ़ अध्यक्ष जतिंदर मल्होत्रा के घर के सामने या चंडीगढ़ भाजपा कार्यालय के सामने धरना देना चाहिए। मल्होत्रा ने किसानों के खिलाफ बोलते हुए कहा है कि किसान किसी भी चीज के लायक नहीं हैं।
कंग ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सुनील जाखड़ ने बठिंडा के एक गरीब किसान के लिए एक भी शब्द नहीं कहा, जिसकी हरियाणा सीमा पर हत्या कर दी गई। उन्होंने पंजाब के किसानों के प्रति हरियाणा सरकार के रवैये के खिलाफ एक भी शब्द नहीं कहा। लेकिन अब वह पंजाब विधानसभा के सामने धरना दे रहे हैं।
कंग ने कांग्रेस नेताओं की भी आलोचना की और कहा कि सत्ता में रहते हुए इन नेताओं ने किसानों के लिए कभी बात नहीं की, वे तत्कालीन सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ विलासितापूर्ण समय बिता रहे थे और किसानों को दिल्ली की सीमाओं पर उनके हाल पर छोड़ दिया था। लेकिन अब विपक्ष में होने के कारण वे अचानक किसानों के मुद्दों के प्रति संवेदनशील हो गए हैं। कंग ने कहा कि यह पहली बार है कि कोई सरकार हर मुद्दे पर बात करने और उसका समाधान करने को तैयार है लेकिन विपक्ष सार्वजनिक मामलों पर चर्चा करने से भाग रहा है।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमारे युवाओं को अग्निवीर बनाया और किसानों को आंदोलनजीवी कहा। भाजपा शासन में देश की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। मणिपुर से लेकर यूपी तक उनके खिलाफ रोज अपराध की घटनाएं सामने आती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में रहते हुए सुनील जाखड़ मोदी सरकार के आलोचक थे और भाजपा में शामिल होने के बाद उन्होंने गिरगिट की तरह अपना रंग बदल लिया। लेकिन पंजाब के लोग अब उनके नाटक पर भरोसा नहीं करने वाले।

The post किसानों के हत्यारे के पिता अजय मिश्रा को फिर टिकट देकर भाजपा का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर : आप first appeared on Khabar Khaas.