Monday , April 15 2024

समाज के साधन संपन्न और हाशिए पर धकेले वर्गों के बीच वाला अंतर मिटाने के लिए सरकार पूरी तरह वचनबद्ध : राज्यपाल

विकास का लाभ समाज के हरेक वर्ग तक पहुंचाना यकीनी बनाने पर दिया जोर

पंजाब के हरेक क्षेत्र में हुए विकास का तैयार किया खाका

खास खबर, चंडीगढ़ :
पंजाब के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने शुक्रवार को कहा कि विकास का लाभ समाज के हरेक वर्ग तक पहुँचाना यकीनी बनाने के लिए संसाधन संपन्न और हाशीए पर धकेले वर्गों के बीच वाला फर्क ख़त्म करने के लिए राज्य सरकार दृढ़ संकल्प है। यहाँ 16वीं पंजाब विधान सभा के छठे सत्र के दौरान अपने संबोधन में राज्यपाल ने कहा कि हमारे जीवंत राज्य पंजाब की यात्रा इसके लोगों की अद्वितीय भावना के साथ जुड़ी हुई है, जिन्होंने समय- समय पर हिम्मत, दृढ़ता और तरक्की की निरंतर कोशिश का प्रदर्शन किया है। आज हमारे लिए यह ज़रूरी है कि हम उन चुनौतियों को स्वीकार करें, जो हमारे सामने हैं और भविष्य की तरफ ऐसा रास्ता तैयार करें, जो ख़ुशहाली, सर्वपक्षीय और टिकाऊ विकास द्वारा पारिभाषित हो। पुरोहित ने कहा कि मेरी सरकार की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक सर्वांगीण विकास के माहौल को उत्साहित करना है, जहाँ पंजाब के हर नागरिक को तरक्की और ख़ुशहाली के समान मौके मिलें। राज्यपाल ने कहा कि मेरी सरकार ने घर-घर मुफ़्त राशन योजना के अंतर्गत पंजाब के हर घर तक राशन पहुँचाने की सफलतापूर्वक शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने स्वास्थ्य और शिक्षा के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में कई प्रगतिशील योजनाएँ शुरू की हैं। पूरे पंजाब में 664 आम आदमी क्लीनिक सफलतापूर्वक चल रहे हैं। अब तक कुल 1.07 करोड़ लोग डाक्टरी इलाज करवाने के लिए इन क्लीनिकों पर आए हैं। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि इन क्लीनिकों पर मरीज़ों को 450 करोड़ रुपए की दवाएँ और 70 करोड़ रुपए के डायगनौस्टिक टैस्ट मुफ़्त करवाए गए हैं।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार सरकारी अस्पतालों में सभी मरीज़ों को मुफ़्त दवाएँ देने के लिए वचनबद्ध है। सरकारी अस्पतालों में मुफ़्त दवाओं की सप्लाई के लिए इस साल 222 करोड़ रुपए की दवाएँ खरीदीं गई हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी ज़िला अस्पतालों, उप- मंडल अस्पतालों और कम्युनिटी हैल्थ सैंटरों में एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड की सुविधा प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि अगले तीन सालों में सभी ज़िला अस्पतालों की इमारतों को अपग्रेड करने के लिए व्यापक योजना बनायी गई है।

राज्यपाल ने कहा कि हमारी सरकार ने सभी सरकारी स्कूलों में बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने के लिए “ पंजाब शिक्षा क्रांति“ शुरू की है। पंजाब शिक्षा क्रांति के अंतर्गत 7082 स्कूलों में चार दीवारी बनाने का काम शुरू किया गया है, इनमें से 1429 स्कूलों में पहली बार चारदीवारी बन रही है।
उन्होंने कहा कि अब तक 12126 स्कूलों को इन्टरनेट कनैक्शन प्राप्त हो चुका है। स्कूलों में 4369 शौचालयों की मुरम्मत की जा चुकी है और सरकारी स्कूलों को 95,000 ड्यूल डैस्क मुहैया करवाए जा रहे हैं। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि राज्य सरकार 118 सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूलों को स्कूल आफ एमिनेंस बनाने के लिए वचनबद्ध है। इन स्कूलों में वैज्ञानिक शिक्षा के लिए स्मार्ट क्लासरूम, पूरी तरह लैस लैबें और खेल के मैदान होंगे।

राज्यपाल ने कहा कि इन सभी यतनों से सरकारी स्कूलों में प्री- प्राइमरी कक्षाओं में दाखि़ला लगभग 17 प्रतिशत बढ़ा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों, ख़ास तौर पर आखिरी सिरे पर बैठे किसान जो सालों से नहरी पानी से वंचित थे, को नहरी पानी मुहैया करवाना यकीनी बनाया है। उन्होंने कहा कि इस साल के दौरान, नहरी पानी का प्रयोग 38 प्रतिशत तक बढ़ा है, जब पानी की माँग सबसे ज़्यादा थी। यह नहरों की समय पर सफ़ाई और प्रौद्यौगिकी की मदद के साथ नहरों की रोज़मर्रा की निगरानी के कारण संभव हुआ है।
पुरोहित ने कहा कि 400 किलोमीटर की लगभग लंबाई वाली बंद पड़ीं 45 नहरों को कार्यशील बनाया गया था। पहली बार 1000 किलोमीटर से अधिक लम्बी नहर को कंक्रीट के साथ बनाया गया है। इसके इलावा, 14100 वाटर कोर्स/ सूए जो पिछले 30 सालों से खाली पड़े थे, को भी चालू कर दिया गया है।

राज्यपाल ने कहा कि उनको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मेरी सरकार के लगातार यत्नों और निगरानी से शाहपुर कंडी डैम प्रोजैक्ट, जो पिछले 25 सालों से अधिक समय से चालू होने का इन्तज़ार में था, को आखिरकार उम्मीद की किरण दिखाई दी है। डैम के भंडार में पानी भरना शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि यह राज्य के पानी को पाकिस्तान की तरफ जाने से रोकने में मदद करेगा और इससे 37,000 हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र के लिए सिंचाई क्षमता भी पैदा होगी और 206 मेगावाट की अतिरिक्त बिजली पैदा करने में मदद मिलेगी। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि यह डैम पर्यटन की नयी संभावनाएं भी पैदा करेगा, जिससे राज्य के लिए रोज़गार के मौके पैदा होंगे।

राज्यपाल ने कहा कि पंजाब सरकार राज्य में भूजल के गिर रहे स्तर से पूरी तरह अवगत है। कई जिलों में भूजल चिंताजनक दर के साथ घट रहा है। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि इस गिरावट के रुझान को रोकने के लिए, भूजल को रिचार्ज करने के लिए नहरी पानी का प्रयोग किया जा रहा है और इस मकसद के लिए सिर्फ़ एक साल में 129 रिचार्ज साईटों का निर्माण किया गया है।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार ने 540 मेगावाट की क्षमता वाला प्राईवेट थर्मल प्लांट जी. वी. के. गोइन्दवाल साहिब बहुत कम कीमत पर खरीदा है, जो किसी भी राज्य सरकार द्वारा अपने आप में ऐतिहासिक प्राप्ति है। उन्होंने कहा कि यह प्लांट 1080 करोड़ रुपए भाव दो करोड़ रुपए प्रति मेगावाट की लागत के साथ खरीदा गया है, जबकि नये थर्मल प्लांट की लागत 8.5 करोड़ रुपए प्रति मेगावाट है। राज्यपाल ने कहा कि खरीदने के बाद, इस प्लांट का नाम बदल कर गुरू अमरदास थर्मल प्लांट रखा गया है। पंजाब की अपनी पछवाड़ा कोयला खदान से कोयले के प्रयोग से इस प्लांट की पैदावार दोगुनी से भी अधिक हो जायेगी।

राज्यपाल ने कहा कि बिजली ख़रीद की लागत के रूप में प्रति साल लगभग 350 करोड़ रुपए की बचत होगी। उन्होंने कहा कि साल 2023- 24 के दौरान पंजाब ने 23 जून 2023 को 15,325 मेगा वाटस की अपनी अब तक की सबसे बड़ी माँग को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि सरकार के मज़बूत यत्नों स्वरूप लगभग 65,993 करोड़ रुपए के 4242 निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं, जिनसे लगभग 3,20,882 लोगों को रोज़गार मिलेगा। अब तक सरकार के 40 विभागों में 40437 नौजवानों को सरकारी नौकरियाँ दीं गई हैं।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार पंजाब के हरेक ग्रामीण परिवार को पीने वाला साफ़ पानी मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि अप्रैल, 2023 में पंजाब हर ग्रामीण घर में कार्यशील घरेलू टोंटी/नल कनैक्शन प्रदान करने में 100 प्रतिशत कवरेज प्राप्त करने वाला देश का पाँचवाँ राज्य बन गया है। बनवारी

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार ने ऑपरेशन ब्लयू स्टार प्रभावित धरमी फौजियों की मदद के लिए मासिक ग्रांट 10,000 रुपए से बढ़ा कर 12,000 रुपए कर दी है। जंग/ ऑपरेशनों में अपने फ़र्ज़ निभाते हुए अपहिज होने वाले रक्षा/ पैरा मिलिट्री कर्मचारी को दिया जाने वाला एक्स- ग्रेशिया दोगुना कर दिया है। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि सरकार ने जंगी जागीर के लाभार्थियों को वित्तीय सहायता 10,000 रुपए से बढ़ा कर 20,000 रुपए सालाना कर दी है।

राज्यपाल ने कहा नयी खेल नीति के अंतर्गत पहली बार एशियाई खेलों में देश की नुमायंदगी करने के लिए चुने गए राज्य के 58 खिलाड़ियों को तैयारी अनुदान के तौर पर 4. 59 करोड़ रुपए की राशि एडवांस में दी गई है। उन्होंने कहा कि पहली बार एशियाई खेलों में पंजाब के खिलाड़ियों ने 20 पदक जीते, जो 1951 में एशियाई खेल शुरू होने के बाद सबसे अधिक पदक हैं। उनको बिना देरी 29. 25 करोड़ रुपए का नकद इनाम दिया गया।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार ने गोवा में हुई राष्ट्रीय खेलों 2023 में पदक जीतने वाले राज्य के 136 खिलाड़ियों को 4. 58 करोड़ रुपए का नकद इनाम भी दिए। उन्होंने बताया कि दशकों बाद टोक्यिे ओलम्पिक 2021 में हॉकी में काँस्य पदक जीतने वाले राज्य के 9 खिलाड़ियों की उपलब्धी को मान्यता देने के लिए, एक क्रिकेटर और एक एथलीट समेत सात खिलाड़ियों को मेरी सरकार ने हाल ही में पी. पी. एस. और 4 को पी. सी. एस. के तौर पर नियुक्त किया है।
बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि सरकार ने ‘खेडां वतन पंजाब दियां’ शुरू करने की पहलकदमी की थी, जिसके दूसरे सीजन में 4.5 लाख बच्चों, नौजवानों और वैटर्न खिलाड़ियों की भागीदारी हुई।

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार ने आदमपुर में 110. 00 करोड़ रुपए की लागत के साथ एयरपोर्ट अथारटी आफ इंडिया द्वारा अत्याधुनिक सिवल एयर टर्मिनल के निर्माण के लिए 16 करोड़ रुपए की लागत वाली 40 एकड़ ज़मीन अधिग्रहित करने में अहम भूमिका निभाई है। राज्यपाल ने कहा कि जैसे कि मेरी सरकार ने वायदा किया था, भ्रष्टाचार के ख़ात्मे की मुहिम तेज रफ़्तार के साथ जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि पारदर्शी शासन यकीनी बनाने के लिए मेरी सरकार ने भ्रष्टाचार के प्रति कतई लिहाज़ न बरतने की नीति अपनाई है। बनवारी लाल पुरोहित ने कहा कि राज्य विजीलैंस ब्यूरो, पंजाब ने 16- 03- 2022 से 08- 01- 2024 तक के समय के दौरान 23 गज़टिड अफसरों, 193 नान- गज़टिड अफसरों और 55 प्राईवेट व्यक्तियों के खि़लाफ़ 195 ट्रैप केस दर्ज किये हैं, जोकि ग़ैर- कानूनी रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़े गए। इसके इलावा 241 आपराधिक मामले दर्ज किये गए, जिनमें 82 गज़टिड अफ़सर, 269 नान गज़टिड अफ़सर और 300 प्राईवेट व्यक्ति शामिल थे।
इसके अलावा राज्यपाल ने सड़क सुरक्षा फोर्स, फरिश्ते स्कीम, गैंगस्टरों के खिलाफ सरकार की मुहिम, नशे पर रोकथाम समेत कई अन्य उपलब्धियों का जिक्र अपने भाषण में किया।

The post समाज के साधन संपन्न और हाशिए पर धकेले वर्गों के बीच वाला अंतर मिटाने के लिए सरकार पूरी तरह वचनबद्ध : राज्यपाल first appeared on Khabar Khaas.