Thursday , February 22 2024

संगरूर के सांसद सिमरजीत मान ने 129 दिव्यांगजनों को बांटें उपकरण और बनावटी अंग

करीबन 26 लाख 72 हजार रुपए के उपकरण किए वितरित

दिव्यांगजन हमारे समाज का अहम हिस्सा, सरकार की नैतिक जिम्मेवारी: मान

सामाजिक सुरक्षा विभाग की ओर से जिले में 47164 लाभान्वितों को 70 करोड़ 74 लाख 46 हजार रुपए की मुहैया करवाई गई मदद

खबर खास, मालेरकोटला :

सामाजिक, न्याय और अधिकार मंत्रालय की ओर से दिव्यांगजनों के लिए चलाई गई योजना के तहत आज, सोमवार को जिला सामाजिक सुरक्षा विभाग की ओर से रेडक्रास जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र और अलिमको मुहाली के सहायोग से उपकरण वितरण समारोह स्थानीय इस्लामिया गर्ल्ज कॉलेज, रायकोट में आयोजित करवाया  गया। इस मौके पर संसद सदस्य सिमरनजीत सिंह मान ने मालेरकोटला सबडिवीजन के दिव्यांग व्यक्तियों को मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल, व्हीलचेयर (बच्चों के लिए), फोल्डिंग, बीटीई, बरेल किटे, स्मार्ट फोन, बैसाखियां, वाकर, सीपी कुर्सियां, नकली अंग, कैलीपर, सुनने वाली मशीनें, स्टिक्स, नकली अंग आदि से अलावा अन्य उपकरण बांटें।

इस मौके पर मान ने कहा कि दिव्यांगजन हमारे समाज का अहम हिस्सा है। सरकार की नैतिक जिम्मेवारी बनती है कि वह दिव्यांगजनों की भलाई के लिए हरसंभव प्रयत्न करना चाहिए। सरकार इनकी भलाई के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है।  उन्होंने कहा कि विभिन्न लोक भलाई योजनाओं के तहत गरीबों की सहायता के लिए प्रधानमंत्री की ओर से जो सहयोग दिया जा रहा है वह बहुत ही प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि हलके के लोगों की भलाई के बहुत से काम जैसे सड़कों का निर्माण, गरीब व बेसहारा लोगों के लिए पक्की छत का प्रबंध, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं के पुख्ता प्रबंध करने के लिए पैसों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि किसी जरूरतमंद परिवार को सरकारी लोक भलाई योजनाओं का लाभ लेने से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। इसके लिए गांव-गांव जाकर कैंप लगाए जा रहे हैं। हलके की बेहतरी के लिए केंद्र से प्रोजेक्ट लाने का उनका हमेशा प्रयास रहेगा।

उन्होंने बताया कि आज 40 व्यक्तियों को करीब 16 लाख 80 हजार रुपए की लागत को मोटराइज्ड ट्राई साइकिल दिए गए हैं। इसके अलावा 16 व्यस्कों को ट्राईसाइकिल, 33 व्हीलचेयर, 17 कानों की मशीनें, आठ नकल अंग, 16 पोलियो कैलिपर, 16 स्मार्ट फोन, 6 सीपी चेयर, 26 बैसाखियां, तीन वाकिंग स्टिक, 1 ब्रेल स्लेट, 8 ऐल्बो क्रच और 5 रोलेटर व अन्य सहायक किटें बांटी गईं।इस मौके पर राष्ट्रीय व्योश्री योजना के तहत पहले से पहचान किए गए जरूरतमंदों को सात लाख 85 हजार के उपकरण भी बांटे गए।

इस अवसर पर जिला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी डा.लवलीन कौर वडिंग ने बताया कि सामाजिक सुरक्षा विभाग की ओर से उपायुक्त डा.पल्ल्वी के दिशानिर्देशों तले 25 सितंबर को एक आंकलन कैंप का आयोजन किया गया था जिस दौरान तकरीबन 200 दिव्यांगजनों ने जांच करवाई थी। विशेषज्ञों की सलाह के मुताबिक 192 दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण वितरित करने के लिए पंजीकृत किया गया था।

उन्होंने बताया कि अब तक विभाग की ओर से 47,164 लाभ पात्रों को 70 करोड़ 74 लाख 46 हजार रुपए की वित्तयी सहायता मुहैया करवाई है। इसमें से जिले के करीब 30847 लाभपात्रियों को नवंबर में 4 करोड़ 62 लाख 70 हजार 500 रुपए बतौर बुढ़ापा पेंशन सीधे उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की गईहै। 9874 विधवा और निराश्रित महिलाओं को एक करोड़ 48 लाख और 11 हजार रुपए की राशि, 1715 आश्रित बच्चों को 25 लाख 72 हजार 500 रुपए की वित्तीय सहायता मुहैया करवाई जा चुकी है। इसी तरह करीबन 4678 दिव्यांगों को करीबन 70 लाख 17 हजार रुपए की वित्तीय सहायता मुहैया करवाई जा चुकी है।

The post संगरूर के सांसद सिमरजीत मान ने 129 दिव्यांगजनों को बांटें उपकरण और बनावटी अंग first appeared on .