Thursday , February 22 2024

पंथक एकता की अपील से प्रेरित होकर देस राज धुग्गा और जसवीर सिंह घुम्मन अपने समर्थकों के साथ शिअद में शामिल हुए

खबर खास, अमृतसर:

शिरोमणी अकाली दल  अध्यक्ष की पंथक एकता की अपील से प्रेरित होकर पार्टी के दो पूर्व वरिष्ठ नेता, जो संयुक्त अकाली दल में चले गए थे ने आज अपने समर्थकों के साथ अपनी मूल पार्टी में दोबारा शामिल हो गए हैं। वरिष्ठ नेताओं-पूर्व मुख्य संसदीय सचिव देस राज धुग्गा और आल इंडिया सिख स्टूडेंट फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष जसवीर सिंह घुम्मन को आज सुखबीर सिंह बादल ने श्री दरबार साहिब के परिसर में तेजा सिंह समूंदरी हाॅल में अकाली दल में वापिस शामिल कर लिया है।

बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दोनों नेताओं ने कहा कि अकाली दल की पंथक एकता की अपील और साथ ही पूर्ववर्ती अकाली दल सरकार के दौरान बेअदबी घटनाओं के लिए बादल की माफी ने उनके दिल को छू लिया है। उन्होने कहा, ‘‘ हमें लगता है कि ऐसा करके सुखबीर सिंह बादल ने सिख भावनाओं को समझकर स्पष्ट कर दिया है कि पूर्ववर्ती अकाली दल सरकार बेअदबी की जघन्य घटनाओं के अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध थी, तथा पंथक ताकतों का विरोध करने के लिए और राज्य में सरकार बनने के बाद वह ऐसा ही करेगी’’।

आज पार्टी में दोबारा शामिल होने वाले वरिष्ठ नेताओं के साथ शुगरफेड के पूर्व चेयरमैन सुखबीर सिंह वाहला, मंडी बोर्ड के पूर्व डॉयरेक्टर भूपिंदर सिंह खालसा, रणधीर सिंह घुम्मन और कमलजीत सिंह चावला भी शामिल थे।