Thursday , February 22 2024

अमृतसर पुलिस ने हथियारों के अंतरराज्यीय तस्करी रैकेट का किया पर्दाफाश; 13 पिस्तौलों समेत एक व्यक्ति काबू  

अमृतसर, 12 दिसंबर: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और डीजीपी पंजाब गौरव यादव के दिशा-निर्देशों के अनुसार पंजाब को सुरक्षित राज्य बनाने के लिए शुरु की गई मुहिम के दौरान अमृतसर कमिश्नरेट पुलिस ने हथियारों के अंतरराज्यीय तस्करी रैकेट का पर्दाफाश करते हुए इस तस्करी गिरोह के एक प्रमुख मैंबर को अमृतसर के गाँव भैणी के क्षेत्र से गिरफ़्तार किया है। यह जानकारी आज यहाँ सीपी अमृतसर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने दी।

गिरफ़्तार किए गए व्यक्ति की पहचान अमृतपाल सिंह उर्फ कालू (28) निवासी गाँव भुल्लर जि़ला तरनतारन के तौर पर हुई है। गिरफ़्तार मुलजिम अलग-अलग जिलों में एनडीपीएस एक्ट और मार-पीट से सम्बन्धित कम से कम आठ आपराधिक मामलों में शामिल था। पुलिस टीम द्वारा उसके पास से .32 बोर के 13 पिस्तौलें और 26 मैगज़ीनों समेत दो जिंदा कारतूस बरामद करने के अलावा उसकी हुंडयी आई-20 कार भी ज़ब्त की गई है।

सीपी गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि पंजाब में आपराधिक तत्वों को सप्लाई करने के लिए मध्य प्रदेश से ग़ैर- कानूनी हथियारों की तस्करी किए जाने सम्बन्धी मिली गुप्त सूचना पर कार्यवाही करते हुए डीसीपी इन्वेस्टिगेशन हरप्रीत सिंह मंडेर और एडीसीपी सिटी-2 प्रभजोत सिंह विर्क, एसीपी वैस्ट कमलजीत सिंह औलख के नेतृत्व में सीआईए-2 की पुलिस टीम ने विशेष मुहिम चलाकर गाँव भैणी, थाना छेहरटा, अमृतसर से उक्त मुलजिम को काबू कर लिया।

उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान गिरफ़्तार किए गए मुलजिम ने खुलासा किया कि वह मध्य प्रदेश से 35,000 रुपए में एक पिस्तौल खरीद कर पंजाब में 50,000 रुपए में बेचता था। उन्होंने आगे बताया कि पुलिस टीमों द्वारा इस पूरे नेटवर्क का पर्दाफाश करने, हथियारों की खरीद और सप्लाई की श्रृंखला को तोडऩे के लिए जांच जारी है।

इस सम्बन्धी एफआईआर नं. 273 तारीख़ 10-12-2023 को शस्त्र अधिनियम की धारा 25/54/59 के अंतर्गत थाना छेहरटा, अमृतसर में मामला दर्ज किया गया है।