Wednesday , February 21 2024

राष्ट्रीय लोक अदालत में 384 बैंचों ने की 2.97 लाख मामलों की सुनवाई

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के जज और पंजाब राज्य कानूनी सेवाएं अथारिटी के कार्यकारी चेयरमैन माननीय जस्टिस गुरमीत सिंह संधावालिया के नेतृत्व अधीन आज, शनिवार को राज्य भर में राष्ट्रीय लोक अदालत लगाई गई।

इस लोक अदालत में कुल 384 बैंचों में लगभग 2.97 लाख केस सुनवाई के लिए पेश हुए। इस लोक अदालत में दीवानी केस, घरेलू झगड़े, जायदाद के झगड़ों, चैक बाऊंस केस, मज़दूरी सम्बन्धी मामले, क्रिमिनल कम्पाऊंडेबल केस, अलग-अलग एफआईआरज की कैंसलेशन/अनट्रेस्ड रिपोर्टों आदि से सम्बन्धित लम्बे समय से लटकते आ रहे मामलों पर सुनवाई की गई।

इस मौके पर पंजाब राज्य कानूनी सेवाएं अथारिटी के जि़ला और सैशन जज एवं मैंबर सचिव मनजिन्दर सिंह और अतिरिक्त जि़ला एवं सैशन जज स्मृति धीर ने बताया कि इस राष्ट्रीय लोक अदालत का मुख्य मंतव्य आपसी समझौते के द्वारा झगड़ों का निपटारा करवाना है। लोगों को वैकल्पिक झगड़ा निवारण केन्द्रों के द्वारा झगड़ों का निपटारा करवाना चाहिए, क्योंकि इससे लोगों के कीमती समय और पैसे की बचत होती है।

मैंबर सचिव ने आगे बताया कि पंजाब राज्य कानूनी सेवाएं अथारिटी लोगों के फ़ैसले करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने लोगों से अपील की कि लोक अदालतों में अपने मामलों का फ़ैसला करवा कर अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करें।