Monday , March 4 2024

आतंकवादी रोडे का साथी ढाडी अमृतसर हवाई अड्डे से गिरफ्तार

यूके जान वाले जहाज पर सवार होने से पहले ही धर दबोचा
खबर खास, चंडीगढ़:
पंजाब पुलिस के स्टेट स्पैशल आपरेशन सैल (एसएसओसी) अमृतसर ने आतंकवादियों की भर्ती करने, फंडिंग और सहायता करने वाले माड्यूल का पर्दाफाश किया है। पुलिस के इस स्पैशल सैल ने पाकिस्तान स्थित आतंकवादी लखबीर रोडे के करीबी साथी परमजीत सिंह उर्फ पंजाब सिंह उर्फ ढाडी को अमृतसर के श्री गुरु राम दास हवाई अड्डे से मंगलवार को गिरफ़्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की है।
पत्रकारों को संबोधित करते हुए पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि परमजीत सिंह, एक ब्रिटिश नागरिक और इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन (आईएसवाईएफ) का एक संस्थापक सदस्य है, जो 90 के शुरूआती दशक में पंजाब में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल था। उन्होंने बताया कि बाद में 2003 में उसको गिरफ़्तार कर लिया गया था। लेकिन अपनी सज़ा पूरी होने के बाद वह यूके लौट गया लेकिन उसने वहां संगठन के लिए काम जारी रखा।
डीजीपीयादव ने बताया कि 2021 में दोषी परमजीत ढाडी का नाम पंजाब में आईएसवाईएफ कैडर के पुनर्गठन करने वालों में शामिल पाया गया था जो कि पंजाब में शांति और सदभावना को भंग करने के लिए विशेष व्यक्तियों को निशाना बनाने के लिए फंड और आतंकवादी हार्डवेयर का इंतज़ाम करता था।
उन्होंने कहा कि ढाडी की गिरफ्तारी से क्षेत्र में शांति भंग करने की कोशिश करने वाले दहशती माड्यूल के लिए एक बड़ा झटका लगा है और पूरे आंतकवादी नैटवर्क का पर्दाफाश करने के लिए जांच निरंतर जारी है।
वहीं, एआइजीएसएसओसी सुखमिंदर सिंह मान ने बताया कि ढाड1ी को इमीग्रेशन अधिकारियों ने सोमवार को अमृतसर से उस समय हिरासत में लिया जब वह पंजाब सिंह नाम वाले ब्रिटिश पासपोर्ट पर यूके जाने के लिए जहाज़ में सवार हो रहा था।
उन्होंने बताया कि प्राथमिक पड़ताल के दौरान यह बात सामने आई है कि ढाडी, लखबीर सिंह रोडे के लगातार संपर्क में था। उन्होंने कहा कि मुलजिम पाकिस्तान अक्सर आता-जाता था और रोडे के निर्देशों पर वह सोशल मीडिया प्लेटफार्मों का प्रयोग करते हुए नौजवानों की पहचान करता था और उनको आतंकवादी गतिविधियों का हिस्सा बनने के लिए प्रेरित करता था।