Breaking News

रिटायर्ड नेवी अफसर ने बयां किया दर्द, बोले-मुझे बातचीत के लिए बुलाकर पीटने लगे शिव सैनिक, उद्दव ठाकरे इस्तीफा दे

शिवसैनिकों के हमले में जख्मी हुए रिटायर्ड नेवी अफसर मदन शर्मा को शनिवार शाम अस्पताल से छुट्टी मिल गई। अस्पताल से बाहर आने के बाद पत्रकारों से बातचीत में मदन शर्मा ने कहा कि अगर सरकार कानून व्यवस्था नहीं संभाल सकती है तो उद्धव ठाकरे को इस्तीफा दे देना चाहिए। भावुक हुए मदन ने कहा कि मेरे साथ बहुत बुरा हुआ, मैं एक सीनियर सिटीजन हूं, शिवसैनिक मुझे बात करने के लिए बुलाए थे, लेकिन बिना बातचीत किए, मारना शुरू कर दिया, मारपीट करने के बाद गिरफ्तारी के लिए मेरे घर पुलिस भेज दी गई। पुलिस पर राजनीतिक दबाव है।


इस मामले में दोपहर बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘रिटायर्ड नौसेना अधिकारी मदन शर्मा से बात की और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। पूर्व सैनिकों पर इस तरह के हमले पूरी तरह से अस्वीकार्य और अपमानजनक हैं।’ उन्होंने मदन शर्मा के जल्द स्वस्थ होने की कामना भी की। वहीं दूसरी ओर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि यह बहुत ही गलत और स्टेट स्पॉन्सर्ड टेरर वाली स्थिति है। उन्होंने कहा, ‘मैं अपने ट्वीट से उद्धव जी का ध्यान गुंडाराज की ओर खींचा है। 10 मिनट में 6 आरोपियों को छोड़ दिया गया।’ मदन शर्मा ने आपबीती सुनाते हुए कहा कि राजनाथ सिंह ने मदद का वादा किया है। रिटायर्ड नेवी ऑफिसर ने कहा कि कंगना रनौत की घटना से मुझे निराशा हुई थी। वाट्सऐप ग्रुप जिसमें मैंने तस्वीर साझा की है, उसमें विधायक और सांसद हैं। किसी को आपत्ति नहीं थी, अगर उन्हें आपत्ति थी तो मेरे साथ बात करनी चाहिए थी। गुंडों के हमले का शिकार हुए पूर्व नौसैनिक मदन शर्मा ने कहा, वे लोग मेरे बच्चों और परिवार को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए मैं सीएम से निवेदन करता हूं कि मेरे परिवार को सुरक्षा दें। उद्धव ठाकरे जी के संगठन और सारे कार्यकर्ताओं को देश से माफी मांगनी चाहिए। इस तरह की घटना दोबारा किसी के साथ नहीं होनी चाहिए।

Loading...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/