Breaking News

विदेशी हैकर बना रहे अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव अभियान को निशाना

अमेरिका की टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि देश में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के अभियानों में शामिल लोगों और संगठनों को रूस, चीन और ईरान के साइबर हमलावर निशाना बना रहे है।

कंपनी ने अपने ब्लाॅग में लिखा, “हाल के हफ्तों में माइक्रोसॉफ्ट ने आगामी राष्ट्रपति चुनाव में शामिल लोगों और संगठनों को निशाना बनाने वाले साइबर हमले का पता लगाया है, जिसमें राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और विपक्षी उम्मीदवार जो बिडेन के अभियानों से जुड़े लोगों पर असफल हमले शामिल हैं।”

उन्होंने कहा कि इस तरह के हमले अप्रत्याशित नहीं थे, “आज हम जिस गतिविधि की घोषणा कर रहे हैं, उससे स्पष्ट होता है कि विदेशी समूहों ने 2020 के चुनाव को निशाने पर लेने के अपने प्रयासों को आगे बढ़ाया है, जैसा कि पहले से ही मालूम था।”

माइक्रोसॉफ्ट ने हमलावरों की पहचान हैकर समूहों स्ट्रोंशियम, जर्कोनियम और फॉस्फ़ोरस के रूप में की है जो क्रमशः रूस, चीन और ईरान से संचालित होते हैं।

Loading...

हैकर समूह स्ट्रोंशियम के निशाने पर रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स की सेवा देने वाले अमेरिकी-आधारित सलाहकार, थिंक टैंक, अमेरिका में राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय राजनीतिक दल एवं संगठन तथा ब्रिटेन की राजनीतिक पार्टियां शामिल हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/