Breaking News

अमेरिका में सुनाई दी ‘योगी मॉडल’ की गूंज, राष्ट्रपति ट्रंप ने दंगाईयों पर लिया एक्शन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) अक्सर ही अपने कामों की वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं. हाल ही में योगी मॉडल की चर्चा शक्तिशाली देश अमेरिका में भी हो रही है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) सीएम योगी के कामों से इतने प्रभावित हुए हैं कि उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं. अच्छी बात तो ये है कि, लखनऊ से 12,346 किलोमीटर दूर अमेरिका के व्हाइट हाउस में अब सीएम योगी के कामों की गूंज सुनाई देने लगी है.

दरअसल, बीते साल ही दिसंबर 2019 में पूरे देशभर में नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ जमकर हिंसा हुई थी. दंगाइयों ने देश के अलग-अलग हिस्सों में हिंसा की आग को भड़का दिया था. इसमें उत्तर प्रदेश में शामिल था जहां भारी मात्रा में जान-माल का नुकसान हुआ था और कई जगह सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया था. इन्हीं घटनाओं के खिलाफ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा एक्शन लिया था और दंगाइयों को ऐसा सबक सिखाया था जिससे फिर कभी भविष्य में इस तरह की हिंसा राज्य में न हो.

दंगाइयों पर सीएम योगी का एक्शन
सीएम योगी ने प्रदेशभर में 100 से अधिक जगहों पर पोस्टर्स लगवाए जिनमें 57 दंगाइयों के नामों के साथ उनका पता और वसूली जाने वाली रकम को लिखा गया था. अब सीएम योगी के इसी मॉडल की गूंज लखनऊ से अमेरिका के व्हाइट हाउस में खूब जोरों-शोरों से सुनाई दे रही है.donald trump meet with cm yogiयोगी मॉडल के तर्ज पर ही व्हाइट हाउस (White house) के पास लेफायेट्टे स्क्वायर में हुए दंगें के 15 आरोपियों की तस्वीरें पोस्टर में लगाई गई है. इन आरोपियों पर पूर्व राष्ट्रपति एंड्र्यू जैक्सन की प्रतिमा को गिराने की कोशिश करने का आरोप है. इन पोस्टर्स की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट करते हुए ट्रंप ने लिखा,”कई लोगों को हिरासत में लिया गया है और कुछ लोगों की तलाश हो रही है. इन लोगों पर लेफायेट्टे स्क्वायर में सार्वजनिक संपत्ति तोड़ने का आरोप है. इसमें आरोपियों पर 10 साल की जेल की सजा का प्रावधान है.”

Loading...

कैसे काम किया योगी मॉडल ने
दंगाइयों की पहचान के लिए सबसे पहले दंगाइयों को पकड़ने के लिए ब्लू प्रिंट तैयार किया इसके बाद CCTV, वीडियो फुटेज से हिंसा फैलाने वाले आरोपियों की पहचान की गई और फिर चौराहों पर इनके पोस्टर चिपकाए गए और नोटिस भी भेजे गए. सीएम योगी के आदेश पर पुलिस ने इन आरोपियों को पकड़ने के लिए रेड तक मारी. लेकिन बाद में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सरकार के इस आदेश पर रोक लगा दी थी. पर सीएम द्वारा उठाए गए इस कदम से प्रदेश में हिंसा रुक गई थी.

बता दें, जब डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आए थे तब उन्होंने आगरा का दीदार किया था और सीएम योगी से मुलाकात भी की थी. फिलहाल डोनाल्ड ट्रंप ने सीएम योगी के मॉडल को अपनाकर साबित कर दिया है कि, सीएम योगी सिर्फ अपने देश में ही नहीं बल्कि विदेश भी कामों की वजह से काफी चर्चित हैं.

Loading...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/