Breaking News

यहाँ गोरा बच्चा पैदा होने पर मिलती है मौत की सजा, वजह जानकर दंग हो जायेंगे आप

हर माता-पिता चाहता है कि उसकी पैदा होने वाली संतान गौरी हो, स्वस्थ हो, अच्छे नैन-नक्शे वाली हो और भी बहुत कुछ । गोरा बच्चा पैदा हो इसलिए गर्भवती महिला वो चीजें खाना शुरू कर देती है जिसके लिए बोला जाता है कि उन्हें खाने से पैदा होने वाली संतान गौरी होती है। ये बाते तो आप लोगों ने सुनी होगी लेकिन क्या आपने कभी ऐसी जगह के बारे में सुना है जहां गौरा बच्चा पैदा करना जुर्म माना जाता है? तो चलिए आपको बताते है ऐसी जगह के बारे मे..

यह परंपरा केंद्र शासित प्रदेश अंडमान के जारवा जनजाति की है। सभी मां बाप चाहते हैं कि उनका बच्चा गोरा और सुंदर हो लेकिन यहां पर कुछ अजीब देखने और सुनने का मिल रहा है कि मां बाप अपने ही बच्चे को रंग गोरा होने की वजह से मार देते है। बच्चे की किलकारी गुंजते ही जश्न मनाया जाता है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी अगर बच्चे का रंग थोड़ा सा भी साफ हैं। तो इनका मानना है कि बच्चे का रंग गोरा होने से वह दूसरे समुदाय का लगने लगता है।

Loading...

उसे मौत के घाट उतार दिया जाता है। अंडमान की पुलिस इस दुविधा में है कि वह इस के खिलाफ एक्शन ले या इस परंपरा को रहने दें। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इस जनजाति की संख्या लगभग 400 है। ये ट्राइब्स अंडमान आइलैंड के नार्थ में 55 हजार सालो से रह रहे हैं।

जारवा जनजाति इलाके में किसी भी विदेशी या बाहरी का आना बैन है। इनका मानना है कि जानवारों का खून पीने से बच्चे का रंग काला होगा। लेकिन इन जनजातियों का पता 1990 में लगा। यहां काला बच्चा पैदा करने के लिए गर्भवती महिलाओ को जानवरों का खून तक पिलाया जाता है।

Loading...
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/